न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नीतीश ने आर्टिकल 370 पर जवाब नहीं दिया, जदयू ने कहा, भाजपा बहुमत में है, उसी का एजेंडा चलेगा

पत्रकारों ने उनसे  मोदी सरकार द्वारा धारा 370 के अधिकतर अनुच्छेद खत्म करने पर सवाल किया,  तो नीतीश कुमार ने इस सवाल को टालते हुए कहा कि कुछ और चीज पर ध्यान दीजिए

65

Patna : जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने के मुद्दे पर अब जदयू बैकफुट पर है. जान लें कि शुक्रवार को नीतीश कुमार ने बिहार में जल,जीवन, हरियाली नामक कार्यक्रम के शुरुआत की. उसके बाद  जब पत्रकारों ने उनसे  मोदी सरकार द्वारा धारा 370 के अधिकतर अनुच्छेद खत्म करने पर सवाल किया,  तो नीतीश कुमार ने इस सवाल को टालते हुए कहा कि कुछ और चीज पर ध्यान दीजिए. इस जवाब से साफ था कि वर्तमान में  नीतीश इस विषय पर कुछ भी बोलना नहीं चाहते,  इसलिए वे पत्रकारों के सवाल के  टाल गये.  हालांकि यू टर्न लेते हुए  जदयू  ने भाजपा को ख़ुश करने के लिए अधिकारिक रूप से कह दिया है कि राष्ट्रीय स्तर पर अब किसी साझा न्यूनतम कार्यक्रम की आवश्यकता नहीं है.

इसे भी पढ़ें-  दिल्ली, हरियाणा, झारखंड व महाराष्ट्र विस चुनाव : भाजपा ने प्रभारी घोषित किये,  माथुर झारखंड के चुनाव प्रभारी

JMM

पार्टी के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है

Related Posts

इस संबंध में राज्यसभा में पार्टी के संसदीय दल के नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह ने तर्क दिया कि भाजपा को अपना बहुमत हासिल है, इसलिए अब वही एजेंडा चलेगा जो भाजपा के घोषणापत्र में है.    मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य के पुनर्गठन संबंधी बिल राज्यसभा में आसानी से पास करवा लिया था.  सहयोगी दल जदयू के विरोध के बाद भी सरकार को बिल  पास कराने में कोई परेशानी  नहीं हुई, क्योंकि  बीएसपी, एआईए़डीएमके और आम आदमी पार्टी का समर्थन भाजपा को मिल गया.

हालांकि जदयू ने  भाजपा को पहले ही बता दिया था कि वह ट्रिपल तलाक और अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर सरकार को समर्थन नहीं करेगी.  लेकिन अब अनुच्छेद 370 पर भाजपा को देश भर  में मिल रहे जनसमर्थन  ने जदयू को स्टैंड बदलने को विवश कर दिया है. यह अब पार्टी के लिए गले की हड्डी बनता जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- PM से बात कर राहुल ने वायनाड और केरल बाढ़ पीड़ितों के लिये मांगी मदद  

Bharat Electronics 10 Dec 2019

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like