न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाक ने #UNHRC में कश्मीर पर रखा अपना पक्ष, अब भारत देगा जवाब

636

Geneva : पाकिस्तान अब जम्मू-कश्मीर को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में मुद्दा बनाने की कोशिशों में जुटा है. उसने मंगलवार को 115 पेज के पुलिंदे के साथ UNHRC में कश्मीर की स्थिति को लेकर भारत पर आरोप लगाये.

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत पर कश्मीर में मानवाधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा नहीं है और यूएन को इसमें हस्तक्षेप करना चाहिए. पाकिस्तान के इन मनगढंत आरोपों को भारत कुछ देर में जवाब देगा.

JMM

इसे भी पढ़ें : #JPSC की कार्यशैली पर लगातार प्रतिक्रिया दे रहे हैं छात्र, पढ़ें-क्या कहा छात्रों ने…. (छात्रों की प्रतिक्रिया का अपडेट हर घंटे)

Related Posts

#CitizenshipAmendmentBill की निंदा की #Pakistan ने, कहा, हिंदू राष्ट्र की दिशा की ओर बढ़ाया गया कदम  

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने मध्य रात्रि के बाद एक बयान जारी कर कहा, हम इस विधेयक की निंदा करते हैं.  यह प्रतिगामी और भेदभावपूर्ण है

जानिए पाक ने UNHRC में क्या-क्या कहा :

  • भाजपा के घोषणापत्र में कश्मीर में जबरन मुस्लिमों को अल्पसंख्यक बनाने की बात कही गयी थी.
  • कश्मीर भारत का आतंरिक मुद्दा नहीं है. कश्मीर में कब्रिस्तान जैसी खामोशी छायी हुई है. वहां नरसंहार किया जा रहा है.
  • जम्मू-कश्मीर के लोगों के मूलभूत अधिकारों को भारत द्वारा रौंदा गया है. वहां के लोग लगातार मौलिक स्वतंत्रता के उल्लंघनों का शिकार हो रहे हैं.
  • जम्मू-कश्मीर में 7 से 10 लाख सेना है. पिछले छह सप्ताह में भारत ने जम्मू-कश्मीर को दुनिया का सबसे बड़ा कैदखाना बना दिया है. वहां जरूरी वस्तुएं भी उपलब्ध नहीं हैं.
  • कश्मीर में 6 हजार से ज्यादा नेता, सामाजिक कार्यकर्ता, स्टूडेंट्स गिरफ्तार किये गये हैं.
  • दक्षिण एशिया में परमाणु युद्ध की आशंकाओं को टालना होगा.
  • UNHRC भारत से अपील करे कि कश्मीर में पेलेट गन खत्म किये जायें और वहां से कर्फ्यू हटाया जाये.
  • कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन करने वालों को दंडित किया जाये.
  • ऑफिस ऑफ हाई कमिश्नर जम्मू-कश्मीर की स्थितियों की पड़ताल करें.
  • मानवाधिकार संगठनों और अंतररराष्ट्रीय मीडिया को कश्मीर जाने दें.

इसे भी पढ़ें : #ChamberElection: चुनाव कमेटी से लेकर टेंडर प्रक्रिया तक में उठ रहे सवाल, को-चेयरमैन ने कहा- नियम से हुए सब काम

Bharat Electronics 10 Dec 2019

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like