न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : वायरल #Audio में धमकी देते सुनाई दे रहे पांकी #MLA, विरोधी हुए #Active

2,917

Palamu : पलामू के चर्चित विधानसभा क्षेत्रों में से एक पांकी विस क्षेत्र के विधायक देवेन्द्र कुमार सिंह इन दिनों एक वायरल ऑडियो को लेकर चर्चा में हैं.

उनका कथित ऑडियो लगातार सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है जिसमें विधायक धमकी देते हुए सुनाई दे रहे हैं. हालांकि विधायक का कहना है कि ये ऑडियो एडिटेड हैं.

JMM

विधानसभा चुनाव से कुछ माह पहले इस तरह का ऑडियो जारी होने से विधायक के विरोधियों को उनके खिलाफ बोलने का आधार मिल गया है.

इसे भी पढ़ें : लातेहार : गारू में ही बना दिये प्रखंड के सारे प्रज्ञा केंद्र व #GrahakSuvidhaKendra, गांवों तक सुविधा पहुंचे तो कैसे?

स्व. विदेश सिंह के पुत्र हैं देवेन्द्र सिंह

पांकी के तीन बार विधायक रहे स्व विदेश सिंह के पुत्र हैं देवेन्द्र कुमार सिंह. विदेश सिंह के निधन के बाद 2016 में हुए उपचुनाव में विदेश सिंह के छोटे पुत्र देवेन्द्र सिंह पांकी विस सीट से चुनाव जीते.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

देवेन्द्र सिंह के कथित ऑडियो को आधार बनाकर विरोधी यह प्रचारित करने में लगे हैं कि पांकी के पूर्व विधायक स्वर्गीय विदेश सिंह द्वारा तैयार की गयी राजनीतिक जमीन को उनके पुत्र ही तहस-नहस करने पर उतारू हैं.

सुनने लायक नहीं है ऑडियो 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ऑडियो सुनने लायक नहीं है. गाली गलौज, धमकी और डराने की चर्चा इसमें है.

विगत एक सप्ताह से जो ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और इसका पुरजोर फायदा विरोधी ले रहे हैं. दो ऑडियो अभी काफी चर्चा में है.

एक भाजपा नेत्री मधुलता से बातचीत का और एक मजदूर किसान महाविद्यालय के प्राचार्य को धमकी देते हुए.

भाजपा नेत्री के साथ 15 मिनट तक की बातचीत के ऑडियो होने का दावा किया जा रहा है जिसमें हॉट टॉक सुनाई दे रहा है लेकिन कोई आपत्तिजनक बात नहीं है.

इसे भी पढ़ें : #KasturbaSchools में सत्र 2019-20 के लिए घटायी गयीं #seats, फिर भी 14,127 रह गयीं खाली

दूसरे ऑडियो में धमकी

बातचीत का दूसरा ऑडियो पांकी के मजदूर किसान कॉलेज के प्राचार्य प्रेमचंद महतो के साथ का है. इसमें कथित तौर पर विधायक प्राचार्य को गाली गलौज कर रहे हैं.

बातचीत में कॉलेज के प्राचार्य अनुदान वाला रजिस्टर के बारे में पूछते हैं कि आप रजिस्टर बैठक के दिन लेकर चले गए हैं क्या?

इस पर कथित तौर पर विधायक स्वीकार करते हुए कहते हैं कि हां, लेकर गये हैं. बस यहीं से विधायक देवेंद्र सिंह (कथित तौर पर) का गुस्सा फूटता है और अनाप-शनाप बोलना शुरू कर देते हैं.

क्या कहते हैं ऑडियो में विधायक?

ऑडियो के मुताबिक विधायक कहते हैं, कि मजदूर किसान कॉलेज तुम्हारे बाप का हो गया है. तुम कॉलेज में राजनीति करते हो. कॉलेज का पैसा तुम्हारे बाप का है.

तुमको मालूम नहीं है कि एक दिन में कॉलेज बंद हो जायेगा. इतना मार बजेगा कि कहीं जगह नहीं मिलेगी. हमसे बड़ा गुंडा हो तुम…

पांकी में राजनीति गर्म

विधायक द्वारा प्राचार्य को धमकी देने का ऑडियो सामने आने के बाद पांकी की राजनीति पूरी तरह से गर्म हो गयी है.

भाजपा के पूर्व पांकी प्रत्याशी अमित तिवारी ने विधायक पर हमला बोलते हुए उनपर गुंडागर्दी और रंगदारी करने सहित ठेकेदारी को लेकर कई आरोप लगाये हैं.

निर्धारित स्थल की योजनाओं को अपने प्रभाव वाले इलाके में ले जाने का आरोप

भाजपा नेता का आरोप है कि स्वास्थ्य केंद्र तरहसी में न बनकर बन गया, यहां से 12 किलोमीटर दूर पाठकपगार में.

उस पर लिखा हुआ है स्वास्थ्य केंद्र तरहसी. यही हाल पदमा में बने स्वास्थ्य केंद्र का है. पांकी विधानसभा क्षेत्र में ठेकेदारी के कई ऐसे मामले हैं जो बन तो गये, लेकिन उसका लाभ यहां के लोगों को नहीं मिल रहा है.

चाहे वह शिक्षा से संबंधित योजना हो या स्वास्थ्य से संबंधित योजना.

इलाके में स्थिति भयावह

सिंचाई की कई योजनाओं का भी लाभ किसानों को नहीं मिल रहा है. इस क्षेत्र में सड़क निर्माण की भी स्थिति बद से बदतर है. तिवारी का आरोप है कि अपने निजी स्वार्थ के लिए विधायक ठेकेदारी करते हैं.

भले ही उसका लाभ यहां के लोगों को नहीं मिले. उनका कहना है कि पिछले 5 वर्ष की योजनाओं का सिर्फ जांच हो जाये तो विधायक की असलियत का पता चल जाएगा.

एडिट कर विरोधी कर रहे वायरल : विधायक

पांकी विधायक देवेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि ऑडियो को एडिट कर उनके विरोधी वायरल कर रहे हैं. शासी निकाय की बैठक एक वर्ष पूर्व हुई थी. चुनाव में उनकी छवि को धूमिल करने के लिए ऐसा प्रयास किया गया है.

हालांकि इससे उनकी साफ छवि को कोई नुकसान नहीं हुआ है. विरोधी जितना प्रयास कर ले, लेकिन उनके मंसूबे कभी सफल नहीं होने पाएंगे.

कॉलेज प्राचार्य को एक जनप्रतिनिधि के नाते कई सुझाव दिये थे, लेकिन उसे जोड़ तोड़ कर धमकी का रूप दे दिया गया.

अबतक नहीं मिला दानदाता रजिस्टर : प्राचार्य

मजदूर किसान महाविद्यालय के प्राचार्य प्रेमचंद महतो ने कहा कि एक वर्ष पहले शासी निकास की बैठक हुई थी. पांकी विधायक देवेन्द्र कुमार सिंह शासी निकाय के सदस्य हैं. मेदिनीनगर एसडीओ अध्यक्ष हैं.

बैठक में एसडीओ की जगह पांकी बीडीओ आये थे, लेकिन बैठक के बाद दानदाता रजिस्टर को विधायक अपने साथ लेते गये.

कई महीने तक जब रजिस्टर नहीं मिला तो काॅलेज की ओर से एक चिट्टी विधायक को लिखी गयी थी. जिससे चिट्टी भेजी थी, उसके सामने ही फोन लगाकर विधायक ने अपशब्दों का प्रयोग किया.

आज तक दानदाता रजिस्टर कॉलेज को नहीं मिल पाया है.

अपमानित किये जाने पर किसी ने नहीं की थी मदद 

प्राचार्य ने कहा कि विधायक द्वारा अपमानित किये जाने पर कई लोगों को इसकी जानकारी दी थी, लेकिन उस समय किसी ने उनकी मदद नहीं की.

लंबे समय बाद ऑडियो कौन वायरल किया? इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है. मोबाइल हैंग होने के कारण कई ऑडियो उन्होंने पहले ही डिलिट कर दिया था.

इसे भी पढ़ें : #IIT से #MTech के लिए 20 हजार की जगह देने होंगे 2 लाख, नहीं मिलेगा 12400 का #Stipend

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like