न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: अभियान के तहत चलेगा मिजिल्स-रूबेला टीकाकरण

साढ़े सात लाख बच्चे होंगे लाभान्वित

594

Palamu : मिजिल्स (खसरा), रूबेला टीकाकरण अभियान की शुरूआत पलामू जिले में 26 जुलाई से प्रारंभ होगी. यह अभियान पूरे भारत में पांच चरणों में हो रहा है, जो केंद्र सरकार के खसरा उत्मूलन एवं रूबेला नियंत्रण 2020 का हिस्सा है. इस अभियान का लक्ष्य 9 माह से 15 वर्ष तक के सभी बच्चों को एमआर का टीका देना है.

इसे भी पढ़े- भूमि अधिग्रहण बिल पर विपक्ष ने फूंका बिगुल, हेमंत ने कहा – जनता पर थोपा जा रहा काला कानून

JMM

7 लाख 50 हजार बच्चों को लाभान्वित करने का लक्ष्य

पलामू के सिविल सर्जन डा. कलानंद मिश्र ने सदर अस्पताल स्थित सिविल सर्जन कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि पलामू जिले में 7 लाख 50 हजार बच्चों को लाभान्वित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. उन्होंनें बताया कि खसरा एवं रूबेला बहुत ही तेजी से फैलने वाली बीमारी है, जो वायरस के द्वारा फैलती है. इसके कारण शिशु मृत्यु दर प्रतिशत काफी ज्यादा है. डॉ मिश्र ने बताया कि इस अभियान के तहत पहले चरण में सरकारी, गैरसरकारी विद्यालयों सहित अन्य शिक्षण संस्थानों यथा प्ले स्कूल आदि में अभियान चला कर टीकाकरण किया जाना है.

इसे भी पढ़े- पाकुड़ में भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने की स्वामी अग्निवेश की पिटाई, पुलिस कर रही जांच

सामाजिक संगठनों आदि से सहयोग लिया जाएगा

Related Posts

#Jamshedpur: पटमदा में बंगाल से आये हाथियों के जमावड़े से दहशत में गांववाले

हाथियों को वापस बंगाल खदेड़ने में वन विभाग के छूट रहे हैं पसीने

सभी सरकारी अस्पतालों, आंगनबाड़ी केंद्रों में भी सभी बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा. उन सभी बच्चों की पहचान करने का काम आईसीडीएस विभाग को सौंपा गया है जो किसी विद्यालय में नहीं जाते. लाभार्थियों को केंद्र तक लाने हेतु टीम का गठन किया जा रहा है, जिनमें सेविका, सहायिका एवं पोषण सखी तीन सदस्य होंगे. लोगों को एम-आर के प्रति जागरूक करने के लिए समाजिक संगठनों, अंतर्राष्ट्रीय सेवा संस्थाओं यथा रोटरी, लायंस जायंट्स सहित धार्मिक संगठनों के अलावा व्यवसायिक संगठनों आदि से सहयोग लिया जाएगा.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़े- मुख्यमंत्री को हेमंत सोरेन का जवाब, ‘उपचुनाव ट्रेलर था 2019 में पूरी पिक्चर दिखायेगी…

स्वस्थ राष्ट्र के लिए स्वस्थ बच्चों का होना पहली शर्त

इससे बच्चों के अभिभावकों को टीकाकरण हेतु प्रेरित करना है. जिले के सभी चिकित्सा पदाधिकारी, ए.एन.एम. सहिया, सहिया साथी एवं स्वास्थ्यकर्मियों को तैयार कर दिया गया है. जिला स्तर पर आईएमए, आईपीए एवं निजी चिकित्सकों को अभियान में शामिल कर उनसे आवश्यक सहयोग प्राप्त करने की अपेक्षा की जा रही है. हम उम्मीद करते हैं कि इस भयावह बीमारी से बचाव हेतु शुरू की गई. इस मुहीम में हर नागरिक का सहयोग प्राप्त होगा क्योंकि सब जानते हैं कि स्वस्थ राष्ट्र के लिए स्वस्थ बच्चों का होना पहली शर्त है. पत्रकार वार्ता में आरसीएचओ डा. एमपी सिंह, पीएम प्रवीण कुमार सिंह, डा. वेलमा देवगम, यूनिसेफ के मनीष प्रियदर्शी, अतुल सिन्हा, सुखराम बाबू, राजू रंजन, के.के शर्मा आदि शामिल थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like