न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : घोर नक्सल प्रभावित कांति से लोबंधा तक जल्‍द बनेगी सड़क : उपायुक्‍त

आजादी के बाद पहली बार कोई उपायुक्‍त पहुंचे उग्रवाद प्रभावित लोबंधा गांव

133

Palamu : पलामू जिले के पांडू प्रंखड के अति उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र का उपायुक्‍त शांतनू अग्रहरी ने दौरा किया. आजादी के बाद पहली बार कोई उपायुक्‍त लोबंधा गांव पहुंचे. उपायुक्‍त ने सड़कों की हालत देखकर चिंता जाहिर की. उन्‍होंने कहा कि पांडू प्रखंड के अंतर्गत घोर नक्सल प्रभावित कांति से लोबंधा गांव तक की सड़क बदहाल है. सड़क के अभाव में गांव का संपर्क प्रखंड मुख्यालय से कटा हुआ है. जिससे दर्जनों गांव विकास से महरूम हैं.

उपायुक्त ने सड़क बनाने की संभावनाओं की तलाश की

उपायुक्त डॉक्टर शांतनु कुमार अग्रहरि के नेतृत्व में रविवार को घोर नक्सल प्रभावित पांडू प्रखंड का दौरा किया. प्रखंड के कांति गांव से लोबंधा तक सड़क जोड़ने एवं प्रखंड मुख्यालय से ग्रामीणों का सीधा संपर्क स्थापित करने की संभावनाओं की तलाश की.

Trade Friends

सड़क के अभाव में परेशान हैं ग्रामीण

कांति गांव से लोबंधा गांव तक सड़क नहीं रहने के कारण, ग्रामीणों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है.  उपायुक्त ने बताया कि ग्रामीणों की कठिनाई को देखते हुए कांति गांव से लोबंधा तक सड़क का निर्माण्‍ा किया जायेगा. प्रखंड मुख्यालय तक ग्रामीणों को सुविधा प्रदान करने के लिए इस महत्वाकांक्षी संपर्क पथ को बनाया जायेगा.

संपर्क स्थापित करने के लिए संभावनाओं की तलाश की

उपायुक्‍त ने नीति आयोग के एडीएफ रोमिल रवि, ग्रामीण अभियंत्रण संगठन के सहायक अभियंता विरेंद्र कुमार और कनीय अभियंता की टीम के साथ दौरा किया. गांव के ग्रामीणों की मांग और आवश्यकता को देखते हुए कांति गांव से लोबंधा गांव तक सड़क का निर्माण किया जाना है. कांति और लोबंधा क्षेत्र का भ्रमण कर सड़क संपर्क स्थापित करने के लिए संभावनाओं की तलाश की.

तीन दिनों में पूरी की जायेगी तकनीकी स्वीकृति

उपायुक्त ने बताया कि ग्रामीण अभियंत्रण को इसके लिए 3 दिनों के अंदर  प्रस्ताव उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है. प्रशासनिक स्वीकृति देकर ग्रामीणों की आवश्यकता को पूरा किया जा सके. उपायुक्त के क्षेत्र भ्रमण एवं स्थल निरीक्षण के दौरान स्थानीय मुखिया और क्षेत्रीय जिला परिषद सदस्य अनिल चंद्रवंशी भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें- डीटीओ कार्यालय से समय पर न तो ड्राइविंग लाइसेंस मिलता है न रिन्यूवल कार्ड

इसे भी पढ़ें- स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 का सच : झिरी में नहीं लगा प्लांट, अब कबाड़ी वालों से सहयोग लेगा निगम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like