न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पप्पू लोहरा ने ट्रांसपोर्टर सोनू अग्रवाल को दी धमकी, पहले 16 वाहनों को फूंका था, अब कंपनी के 16 कर्मियों को मारेंगे

1,510

Ranchi : बालाजी ट्रांसपोर्ट और रोडवेज के मालिक अमित अग्रवाल उर्फ सोनू अग्रवाल से पप्पू लोहरा के द्वारा फोन पर लेवी मांगी गयी है. पप्पू लोहरा ने सोनी अग्रवाल को फोन पर कहा कि लेवी के रूप में जो रुपये मांगे गये हैं, उसे दो नहीं तो जान भी जा सकती है.

इतना ही नहीं पप्पू लोहरा ने मैसेज करके भी कहा कि पहले 16 वाहनों को आग के हवाले किया था, अब तेरे कंपनी के 16 आदमियों को मारेंगे. जिसके बाद बालाजी ट्रांसपोर्ट और रोडवेज के मालिक अमित अग्रवाल ने पुलिस उप महानिरीक्षक झारखंड, एडीजी स्पेशल ब्रांच, पुलिस अधीक्षक एनआइए, पुलिस अधीक्षक रांची और पुलिस अधीक्षक हजारीबाग को पूरी घटना की जानकारी दी. उन्होंने अपनी और अपनी कंपनी के कर्मचारियों की सुरक्षा की गुहार लगायी है. साथ ही धमकी देने वाले लोगों पर कार्रवाई की मांग की है. गौरतलब है कि पप्पू लोहरा प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन जेजेएमपी का सुप्रीमो है.

Jmm 2

इसे भी पढ़ें- राज्य में हर दिन हो रहे पांच रेप, पिछले छह महीनों में दुष्कर्म की 896 घटनाएं

कुछ दिनों से लगातार मिल रही है धमकियां

बालाजी ट्रांसपोर्ट और रोडवेज के मालिक अमित अग्रवाल को अंजान नंबर से लगातार जान मारने की धमकियां मिल रही है. इस वजह से अमित अग्रवाल का परिवार और कंपनी के कर्मचारी दहशत में जी रहे हैं.

बालाजी ट्रांसपोर्ट और रोडवेज कंपनी पूरे देश भर में लॉजिस्टिक की सुविधा देती है और साथ ही साथ यह कंपनी झारखंड में कोयला ट्रांसपोर्टेशन का काम भी करती है. इस तरह की लगातार मिल रही धमकियों से कंपनी के काम पर भी इसका असर पड़ रहा है.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

इसे भी पढ़ें-  धर्मांतरण विरोधी कानून लाने पर विचार कर रही है मोदी सरकार, अगले सत्र में ला सकती है  बिल

पहले 16 वाहन को जलाये थे अब 16 आदमी को मारेंगे

5 अगस्त की रात अमित अग्रवाल के मोबाइल फोन पर अनजान नंबर से फोन आया लेकिन अमित अग्रवाल ने इसे इग्नोर कर दिया. इसी दौरान कुछ ही देर में दोबारा फोन आया और धमकाते हुए कहा कि मैं पप्पू लोहरा बोल रहा हूं रुपये की जो मांग की गयी है, उसे दे दो अगर नहीं दिया तो तेरी जान भी जा सकती है. लेकिन अमित अग्रवाल ने इसपर भी कुछ खास ध्यान नहीं दिया.

जिसके बाद 9 अगस्त को अमित अग्रवाल के फोन पर एक मैसेज आया कि पहले 16 वाहनों को जलाया था और अब कंपनी के 16 कर्मियों को मारेंगे. इस मैसेज के बाद से अमित अग्रवाल और कंपनी के कर्मचारी दहशत में जी रहे हैं. उन्होंने पुलिस के वरीय अधिकारी से अपनी और अपने कंपनी के कर्मचारियों की सुरक्षा की गुहार लगायी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like