न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#ParliamentSession: मोदी सरकार को घेरने की तैयारी, आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, चुनावी बॉन्ड का मुद्दा सदन में उठायेगी कांग्रेस

728

New Delhi: कांग्रेस ने बेरोजगारी, आर्थिक मंदी, कृषि संकट और चुनावी बॉन्ड जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार को घेरने की रणनीति बनायी है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में बुधवार को पार्टी के लोकसभा सदस्यों की बैठक हुई जिसमें बेरोजगारी, आर्थिक मंदी जैसे मुद्दे पर संसद के मौजूदा शीतकालीन सत्र में नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा हुई.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: नीतीश ही नहीं शॉटगन शत्रु और यशवंत सिन्हा भी कर सकते हैं सरयू राय के लिए प्रचार

JMM

Bharat Electronics 10 Dec 2019

कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि पार्टी चुनावी बॉन्ड के मुद्दे को गुरुवार को लोकसभा में उठा सकती है. सूत्रों के मुताबिक संसद भवन में हुई इस बैठक में इन मुद्दों के अलावा सेंट्रल पूल में चावल की खरीद से जुड़ी छत्तीसगढ़ सरकार की मांग पर भी चर्चा हुई. कांग्रेस इस मुद्दे को बुधवार को ही लोकसभा में उठाने की तैयारी में है.

मोदी सरकार को घेरने की पूरी तैयारी

इस बैठक के दौरान कांग्रेस के लोकसभा सदस्यों के अलावा पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला भी मौजूद थे.

पार्टी सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस की इस बैठक में सहमति बनी कि बेरोजगारी, मंदी और किसानों की समस्याओं के अलावा चुनावी बॉन्ड के मामले को भी संसद के भीतर जोरदार ढंग से उठाया जाएगा.

इसे भी पढ़ेंः#JharkhandElection: आज रांची आयेंगे मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा, दो दिवसीय झारखंड दौरे पर होगी चुनाव आयोग की टीम

कांग्रेस के एक सूत्र के अनुसार, पार्टी चुनावी बॉन्ड के मुद्दे को गुरुवार को लोकसभा में उठा सकती है.

पार्टी का आरोप है कि 2017 में चुनावी बॉन्ड की व्यवस्था से जुड़े सरकार के कदम से पहले भारतीय रिजर्व बैंक और चुनाव आयोग दोनों ने आपत्ति जताई थी, लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ने इन दोनों संस्थाओं की चिंताओं को खारिज करते हुए कदम बढ़ाया. कांग्रेस ने यह आरोप भी लगाया है कि चुनावी बॉन्ड के जरिए सबसे ज्यादा चंदा भाजपा को मिला है.

इसे भी पढ़ेंः#Maharashtra: कांग्रेस-NCP की बैठक आज, राउत बोले-5-6 दिनों में बनायेंगे सरकार, किसानों के मुद्दे पर PM से मिलेंगे पवार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like