न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पतरातू : जमीन कारोबारी की धारदार हथियार से मारकर हत्या

848

Ramgarh : जिले के पतरातू में जमीन कारोबारी की धारदार हथियार से मारकर हत्या कर दी गयी. मृतक का नाम राम प्रसाद साहू है. घटना क्षेत्र के साकूल गांव की है. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि अपराधियों ने राम प्रसाद साहू के सर और छाती पर धारदार हथियार से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया.

घटना के बाद यह आशंका जताई जा रही है कि हत्या किसी जमीन विवाद को लेकर की गयी है. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए भेज दिया.

JMM

फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या सच में मृतक का किसी के साथ जमीन विवाद था जिसकी वजह से उसकी हत्या की जा सकती है.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू कश्मीरः अनंतनाग में मुठभेड़, दो दहशतगर्द ढेर-एक जवान शहीद

सोमवार से लापता था मृतक

राम प्रसाद सोमवार की सुबह करीब 10 बजे अपनी बाइक से रांची जाने के लिए घर से निकला था. जिसके बाद देर रात तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की. काफी खोजबीन करने के बाद भी राम प्रसाद का कुछ पता नहीं चला.

जिससे परिजनो को किसी अनहोनी का डर सताने लगा था. रातभर परिजन अपने स्तर से राम प्रसाद की खोज करते रहे. जिसके बाद मंगलवार सुबह राम प्रसाद का शव बरामद हुआ.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: बूढ़ी मां घर चलाने के लिए चुनती है इमली और लाह के बीज, दूध और सब्जियां तो सपने जैसा

गांव के बाहर मिला शव

परिजनों को मंगलवार सुबह सूचना मिली कि राम प्रसाद का शव साकुल गांव के बाहर सड़क पर पड़ा है. परिजन आनन-फानन में मौके पर पहुंचे. शव देखते ही परिजनों का हाल बुरा था. वहीं पुलिस को भी घटना की सूचना मिली. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी.

पुलिस ने मामले को लेकर कहा कि राम प्रसाद की हत्या किसी धारदार हथियार से की गयी है. उसके सर और छाती पर जोर से वार किया गया. जिससे की उसकी मौत हो गयी. अपराधी घटना को अंजाम देकर फरार हो गए और शव को गांव के बाहरी इलाके में छोड़ दिया.

राम प्रसाद की हत्या किन कारणों से हुई है फिलहाल इसका पता लगाने की कोशिश की जा रही है. मृतक के परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है. कहीं राम प्रसाद का किसी के साथ कुछ विवाद तो नहीं था जिसकी वजह से उसकी हत्या की जा सकती है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like