न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीहः देवरी में सरकारी चावलों की कालाबाजारी, पुलिस ने छापामारी कर जब्त किये 400 सौ से अधिक पैकेट

गोदाम संचालक महेन्द्र बरनवाल फरार, ट्रक चालक व खलासी गिरफ्तार

1,544

Giridih:  भारतीय खाद्य निगम के चावल को ट्रक में लोडकर भेजने की तैयारी कर रहे धंधेबाज के गोदाम में छापेमारी की गयी. इसमें 400 सौ से अधिक चावल के भरे पैकेट के साथ एफसीआई के 85 खाली बोरे और पोषाहार के 10 जले पैकेट को भी जब्त किया गया. यह छापामारी खाद्य आपूर्ति विभाग के पदाधिकारी ने की.

गुप्त सूचना के आधार पर गिरिडीह के देवरी प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी राजीव रंजन के अलावे देवरी बीडिओ देवेश कुमार और देवरी पुलिस ने शनिवार की दोपहर करीब चार बजे देवरी थाना क्षेत्र के जमुआ-चिकनाडीह रोड स्थित एक मकान में छापेमारी की. जिस मकान में छापामारी हुई वह देवरी के महेन्द्र बरनवाल का है.

JMM

एमओ राजीव के अनुसार महेन्द्र बरनवाल चिकनाडीह में जहां किराना दुकान की संचालन करता है, वहीं अपने मकान से वह एफसीआई के चावल की कालाबाजारी भी किया करता था.

इसे भी पढ़ेंः सरकार की नीतियों के खिलाफ चेंबर की होर्डिंगबाजी के बाद अब सोशल मीडिया वार शुरू 

गुप्त सूचना मिलने पर हुई छापामारी

गुप्त सूचना के आधार पर जिस वक्त महेन्द्र बरनवाल के मकान में छापेमारी हुई, उस वक्त भी एक ट्रक में चावल के पैकेट मजदूरों द्वारा लोड किया जा रहा था. पैकेटों को लोड करने के दौरान पदाधिकारियों ने छापेमारी की और पैकेटों को जब्त किया. हालांकि छापेमारी के दौरान चावलों की कालाबाजारी का धंधेबाज महेन्द्र बरनवाल फरार होने में सफल रहा.

लेकिन ट्रक चालक व खलासी को पुलिस जवान दबोचने में सफल रहे. जिस ट्रक में चावलकों को लोड किया जा रहा था,  उस ट्रक में बिहार का नंबर प्लेट लगा हुआ था. ऐसे में पदाधिकारी संभावना जता रहे हैं कि महेन्द्र बरनवाल पैकेट को ट्रक में लोड कर बिहार भेजने की तैयारी कर रहा था.

इसे भी पढ़ेंः फेडरेशन ऑफ झारखंड चेंबर रांची के बाद अब गिरिडीह चेंबर ने लगायी गुहारः व्यापारियों की मार्मिक पुकार-अब तो सुध लो सरकार

आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों के बीच वितरण होने वाले चावल भी जब्त हुए

समाचार लिखे जाने तक छापेमारी जारी थी. वहीं छापेमारी के दौरान धंधेबाज के गोदाम को जब खंगाला गया, तो चार सौ से अधिक चावलों के पैकेट मिले. छापेमारी के क्रम में पदाधिकारियों ने कुछ पैकेटों को खोला, तो कुछ पैकेटों में मोटा चावल के साथ कूटा हुआ चावल और देसी चावल भी पाया गया. यही नही गोदाम से बरामद पैकेटों में किसी में वजन 25 किलो है तो किसी में 30 से 40 किलो. गोदाम को खंगालने के क्रम में गोदाम से एफसीआई के 10 खाली बोरों के साथ आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों के बीच वितरण होने वाले पोषणहार के आठ से 10 पैकेट भी जले पाये गये. छापेमारी में शामिल पदाधिकारियों की मानें तो जिस प्रकार से गोदाम में एफसीआई के बोरे और पोषणहार के पैकेट पाये गये हैं, उससे अनुमान है कि एफसीआई के चावलों की कालाबाजारी करने वाला धंधेबाज महेन्द्र बरनवाल बोरों से चावलों को खाली कर छोटे-छोटे पैकेटों में कालाबाजारी किया करता था. यही नही महेन्द्र के इस गोदाम से ही पोषणहार की भी कालाबाजारी हो  रही थी.

इसे भी पढ़ेंः विश्व चैम्पियनशिप : भारतीय स्टार पीवी सिंधू लगातार तीसरे फाइनल में

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like