न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

आंगनबाड़ी सेविकाओं को पीएम के कार्यक्रम में जाने से स्टेशन पर ही पुलिस ने रोका, नेत्री सुंदरी तिर्की लायी गयीं थाने

2,792

Ranchi: गुरुवार यानि आज पीएम मोदी विधानसभा का उद्घाटन करने के लिए रांची आने वाले हैं. 11:30 बजे वो रांची पहुंचने वाले हैं. 11:35 में वो रांची विधानसभा का उद्घाटन करने के लिए कुटे गांव पहुंचेंगे.

लेकिन इससे पहले करीब 10 बजे झारखंड के कई जिलों से आयीं आंगनबाड़ी सेविकाओं को पुलिस ने हटिया स्टेशन पर हिरासत में ले लिया है. आंगनबाड़ी सेविकाओं की संख्या 150 के करीब बतायी जा रही है. पुलिस वालों ने आंगनबाड़ी सेविकाओं पहले वहां जाने से रोका कहा कि आप लोग वापस लौट जाये.

लेकिन आंगनबाड़ी सेविकाओं ने जब पीएम के कार्यक्रम में जाने की जिद की तो उन्हें हिरासत में ले लिया गया. आंगनबाड़ी सेविकाओं ने पुलिस ने ड्रेस बदल कर पीएम कार्यक्रम में जाने की बात कही, फिर भी पुलिस ने उन्हें वहां नहीं जाने दिया और हिरासत में ले लिया.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंःPM मोदी साहिबगंज को देंगे मल्टी-मॉडल टर्मिनल, राज्य को नेपाल, बांग्लादेश व बंगाल की खाड़ी से जोड़ेगा बंदरगाह 

थाने लायी गयीं आंगनबाड़ी नेत्री सुंदरी तिर्की

पीएम कार्यक्रम में आंगनबाड़ी सेविकाओं को रोकने के लिए उनकी नेत्री सुंदरी तिर्की को पुलिस ने अपने घर से नहीं निकलने को कहा है. न्यूज विंग से बात करते हुए सुंदरी तिर्की ने कहा कि सुबह छह बजे मेरे घर के आगे पुलिस आकर खड़ी हो गयी.

थोड़ी देर बाद मुझे थाना चलने को कहा गया. मैं तुपुदाना थाने गयी. थाने में मुझे करीब एक घंटे तक बैठा कर रखा गया. सात बजे के बाद मैं घर आयी. पुलिस ने मुझसे कहा कि मैं अपने घर से नहीं निकलूं, किसी तरह के धरना-प्रदर्शन में भाग ना लूं.

प्रदर्शन नहीं करने वाले सेविका बसों से पीएम कार्यक्रम स्थल पहुंचीं

ऐसा नहीं है कि सभी आंगनबाड़ी सेविकाओं को पुलिस पीएम के कार्यक्रम स्थल जाने से रोक रही है. ऐसी आंगनबाड़ी सेविका जो पीएम कार्यक्रम स्थल पर विरोध और प्रदर्शन नहीं कर रही हैं, उन्हें प्रशासन बकायदा बसों से प्रभात तारा मैदान पहुंचाने का काम कर रहा है.

मामले पर आंगनबाड़ी सेविकाओं के आंदोलन के अगुआई करने वाले बालमुकंद कहते हैं कि सरकार की यह दोहरी नीति है. एक तरफ हमें अपनी मांग पीएम मोदी के सामने रखने से रोका जा रहा है और दूसरी तरफ आंगनबाड़ी सेविकाओं को बसों से पीएम के कार्यक्रम स्थल पहुंचाया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंः#Dhullu तेरे कारण: यौन शोषण की पीड़िता ने कहा- सिर्फ मुझे ही नहीं, मेरे सहयोगियों को भी मरवाना चाहता है ढुल्लू महतो 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like