न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी 10 किमी की ट्रैकिंग कर तिरुमला पहाड़ी पहुंचे, भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को आंध्रप्रदेश के तिरुमला में पहाड़ी पर स्थित मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की.

49

Tirupati  : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को आंध्रप्रदेश के तिरुमला में पहाड़ी पर स्थित मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना की. खबरों के अनुसार मंदिर प्रबंधन ने मंदिर के मुख्य प्रवेश द्वार पर पहुंचने पर राहुल का गर्मजोशी से स्वागत किया.  मंदिर के एक अधिकारी के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष ने पहाड़ी पर स्थित मंदिर तक पहुंचने के लिए करीब 10 किमी की ट्रैकिंग की और वहां भगवान वेंकटेश्वर की पूजा अर्चना की. अधिकारी ने बताया कि पहाड़ी पर पहुंचने में राहुल को लगभग 2 घंटे लगे. पहाड़ी पर पहुंचने के बाद राहुल गांधी थोड़ी देर तिरुमला तिरुपति देवस्थानम अतिथि गृह में रूके और बाद में मंदिर गये.

अधिकारी के  अनुसार पूजा अर्चना के बाद राहुल को पवित्र रेशमी कपड़ा, प्रसाद और एक पवित्र स्मृति चिह्न भेंट किये गये. राहुल लगभग 20 मिनट तक मंदिर में थे. बता दें  कि मंदिर और वहां तक आने वाले मार्ग में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गयी थी. पूजा करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने एक रैली को संबोधित किया.

JMM

मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला

आंध्रप्रदेश के तिरुपति में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आयेाजित रैली में मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. इस क्रम में उन्होंने आंध्रप्रदेश की जनता से राज्य को विशेष दर्जा देने का वादा भी किया. राहुल गांधी ने कहा कि अगर 2019 में केंद्र में हमारी सरकार आयी तो हम सबसे पहले आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देंगे. कहा कि मैं आंध्र प्रदेश और देश के हर एक व्यक्ति से कहना चाहता हूं कि जैसे ही दिल्ली में कांग्रेस पार्टी की सरकार आयेगी,  दुनिया की कोई ताकत आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने से कांग्रेस पार्टी को रोक नहीं सकेगी. राहुल ने कहा कि आंध्रप्रदेश के लोगों से राज्य को विशेष दर्जा देने का वादा किया गया था और ये विशेष दर्जा देने का वादा किसी सामान्य व्यक्ति ने नहीं किया था. प्रधानमंत्री कोई सामान्य व्यक्ति नहीं होता. प्रधानमंत्री करोड़ों लोगों की आवाज होता है.

आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा देने का वादा भारत के प्रधानमंत्री ने नहीं, बल्कि हर एक भारतीय ने किया था. उन्होंने कहा कि राजनीति और नेतृत्व में सबसे महत्वपूर्ण चीज व्यक्ति के शब्दों का होता है. यदि उसमें वजन नहीं है तो फिर उसका कोई मतलब नहीं है. पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा कि उसी भाषण में उन्होंने हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपये देने, हर साल 2 करोड़ नौकरियां देने और किसानों को सही दाम देने की बात भी कही थी, उनका हर एक बयान झूठ था.

इसे भी पढ़ें  : हमारी पहचान भारतीय, जाति -धर्म का विभाजन हमारे खून में नहीं : सीआरपीएफ

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like