न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शराब तस्करी के लिए वाहनों की चोरी करने वाले गिरोह के सरगना सहित छह अपराधी रांची पुलिस की गिरफ्त में

123

Ranchi  : शराब तस्करी करने के लिए वाहनों की चोरी करने वाले गिरोह के सरगना सहित छह लोगों को रांची पुलिस ने गिरफ्तार किया है.  पुलिस ने इनके पास से चार बोलेरो वाहन जब्त किये. जानकारी दी गयी है कि  गिरोह चोरी के वाहनों का उपयोग बिहार में शराब सप्लाई करने के लिए किया करता था.  गिरोह में सरगना सोनू साव, अरुण कुमार राम, सुखदेव दांगी, विनय कुमार यादव, प्रकाश साव और राम आशीष कुमार दांगी शामिल हैं.

गिरोह के सरगना सोनू साव का आपराधिक इतिहास रहा है. राजधानी रांची और हजारीबाग के अलग-अलग थानों में इसके खिलाफ कुल 10 मामले दर्ज हैं.  गिरफ्तार हुए अन्य अभियुक्तों का भी अपराधिक इतिहास पाया गया है इसका सत्यापन किया जा रहा है.

Trade Friends
धनबाद : रात में घर से गायब हुई थी युवती, सुबह पेड़ की डाली से लटका मिला शव

  किया गया एसआइटी का गठन

पिछले एक वर्ष से रांची जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हो रही चार पहिया वाहनों की चोरी की रोकथाम तथा चोरी प्रकरण में दर्ज कांडों के उद्भेदन के लिए रांची  के वरीय पुलिस अधीक्षक अनीश गुप्ता ने सिटी एसपी सुजाता वीणापानी के नेतृत्व में एक एसआइटी टीम का गठन किया था. एसआइटी टीम ने  गिरोह का पर्दाफाश करते हुए अंतरराज्यीय वाहन चोर गिरोह के सदस्यों को पकड़ा और चार पहिया वाहन चोरी के लगभग डेढ़ दर्जन घटनाओं का उद्भेदन किया.

इसे भी पढ़ें- दर्द-ए-पारा शिक्षक: उधार पर चल रहा जुदिका का परिवार, तंगी ने सामाजिक सम्मान भी छीना

 गुप्त सूचना के आधार पर हुई गिरफ्तारी

22 जून 2019 को रांची पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि वाहन चोर गिरोह का सरगना सोनू साव अपने दो साथियों के साथ चोरीका  बोलेरो लेकर रांची आ रहा है तथा चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाला है. इस सूचना के आधार पर बीआईटी थाना क्षेत्र के पारचट्टू रिंग रोड पर चेकिंग लगायी गयी.  इसी क्रम में सोनू साव को चोरी के बोलेरो जिस पर फर्जी नंबर लगा हुआ था, के साथ गिरफ्तार किया गया. इस दौरान दो सहयोगी अरुण राम और चतुर साव मौका देखकर गाड़ी से कूद कर भाग गये.

 गिरोह के चार सदस्य चौपारण से गिरफ्तार

गिरफ्तार हुए सोनू साव से रांची पुलिस के द्वारा की गयी पूछताछ में उसने बताया कि उनके तीन-चार सहयोगी चौपारण में चोरी के बोलेरो के साथ उसका इंतजार कर रहे हैं. इस सूचना पर  पुलिस की टीम चौपारण गयी तथा चौपारण में गुरदासपुर पंजाबी ढाबा के पास बोलेरो के साथ इस गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया.  इस क्रम में टीम को सूचना प्राप्त हुई कि इस गिरोह का एक सदस्य अरुण बीआईटी थाना क्षेत्र में घूम रहा. इसके बाद वह भी पकड़ा गया.

इसे भी पढ़ें- रांची निर्भया हत्याकांड : आरोपी राहुल रॉय को रिमांड पर लेने के बाद खुलेंगे हत्या के कई राज

 चोरी के वाहनों में करते थे शराब की तस्करी

गिरफ्तार वाहन चोर गिरोह के सदस्य शादी समारोह और हॉस्पिटल के बाहर लगे वाहनों की चोरी करते थे. इसके बाद  इन वाहनों का उपयोग शराब तस्करी में करते थे.  गिरोह के सदस्य हजारीबाग के चौपारण से शराब लोड कर बिहार में सप्लाई करते थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like