न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साहिबगंज : भाजपा सरकार ने बाढ़ राहत की तैयारी नहीं की, जनता बेहाल : बजरंगी प्रसाद  

भाजपा के नेता कुछ जगहों में जाकर सेल्फी और फ़ोटो खिंचाने में व्यस्त हैं. बाढ़ से घिरे दियारावासी के आवागमन के लिए नाव की व्यवस्था नहीं की गयी है.

111

Sahibganj : साहिबगंज में कांग्रेस के प्रदेश महासचिव बजरंगी प्रसाद यादव ने प्रेस वार्ता कर कहा कि झारखंड के एक मात्र जिले से होकर बहने वाली गंगा में बाढ़ से निपटने के लिए राज्य सरकार ने कोई तैयारी नहीं की. नतीजतन आज जिले की जनता बाढ़ से त्राहिमाम कर रही है, मिर्ज़ाचोंकी से लेकर हाजीपुर, श्रीधर तक बाढ़ की हालत चिंताजनक है,

शहरी के 60 फीसद इलाकों में बाढ़ का पानी घुस आया है. रही सही कसर दो दिनों से हो रही भारी बारिश ने पूरी कर दी है. बजरंगी प्रसाद ने कहा कि भाजपा के नेता कुछ जगहों में जाकर सेल्फी और फ़ोटो खिंचाने में व्यस्त हैं. बाढ़ से घिरे दियारावासी के आवागमन के लिए नाव की व्यवस्था नहीं की गयी है.

JMM

इसे भी पढ़ें :  #EastSinghbhum के #minerals की हो रही #Smuggling, हर साल 1000 करोड़ के राजस्व का नुकसान

राहत सामग्री के लिए लोगों से आधार मांगा जा रहा है

राहत सामग्री के लिए लोगों से आधार मांगा जा रहा है, ऐसा लगता है कि भाजपा सरकार ने दियरा में नेशनल हाईवे बनवा दिया है जिससे होकर आसानी से लोग राहत लेने शिविर पहुंच जायेंगे. उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है कि पीड़ितों को बुला कर राहत दी जा रही है, वहीं दूर दराज दियारा के लोग आज भूखे प्यासे तड़प रहे हैं. कई जगह का दौरा करने के बाद सरकार व प्रशासन की व्यवस्था की पोल खुल गयी है.

इसे भी पढ़ें : लगातार हो रही बारिश से मैथन और पंचेत डैम का जलस्तर बढ़ा, कोलियरियों में उत्पादन हुआ प्रभावित

Bharat Electronics 10 Dec 2019

चुनाव में क्षेत्र की जनता सरकार को सबक सिखाएगी

राहत सामग्री के लिए आधार कार्ड की बंदिश से बाढ़ पीड़ितों को खाली हाथ लौटना पड़ा रहा है, कहा कि बाढ़ पीड़ित ज़िंदगी बचाएं या आधार ढूंढ कर लायेंय आखिर ये कैसी बंदिश लगाई गई है. कहा कि भाजपा सरकार से एक मात्र आपदा वाले ज़िले के 2-3 प्रखंड नहीं संभल रहे है, सिर्फ जाति व धर्म के नाम पर चुनाव लड़ने वाली भाजपा सरकार की व्यवस्था को जनता देख रही है. आने वाले चुनाव में क्षेत्र की जनता ऐसी लापरवाह सरकार को सबक सिखाएगी.

उन्होंने प्रशासन को सुझाव देते हुए कहा कि प्रखंडों में पहले से मौजूद सूची को आधार बना कर पीड़ितों को पंचायत स्तर पर राहत पहुंचा कर देना चाहिए . वहीं उनके आवागमन के लिए नाव की व्यवस्था करनी चाहिए. ताकि आपात स्थिति में बाढ़ पीड़ित नाव का इस्तेमाल कर सकें.

कौन कौन थे मौजूद

मौके पर वरीय जिला उपाध्यक्ष मो कलीमुद्दीन,नगर अध्यक्ष महेंदर पासवान,जिला शोसल मीडिया कोऑडीनेटर संतोष स्वर्णकार,महेशपुर विधानसभा प्रभारी बास्की नाथ यादव, इंटक जिला अध्यक्ष कृष्णा शर्मा,अजय शर्मा आदि मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : #CM ने कहा था #Degree से नौकरी नहीं मिलेगी, तो आज किस मुंह से डिग्री देने गये थे : हेमंत

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like