न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेंसेक्स में 100 से अधिक अंकों की उछाल, रुपया पांच पैसे फिसला

668

Mumbai :  वैश्विक बाजारों में मिल-जुले रुख के बीच बैंकिंग शेयरों में बढ़त के दम पर मंगलवार को शुरुआती कारोबार में बीएसई सेंसेक्स में 100 अंकों से अधिक की तेजी देखी गयी.

शुरुआत के पहले पौने घंटे के कारोबार के बाद बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक 104.83 अंक या 0.27 प्रतिशत चढ़कर 39,001.54 अंक पर पहुंच गया. इसी तरह एनएसई निफ्टी पर 29.25 अंक यानी 0.25 फीसदी की बढ़त के साथ 11,617.60 अंक पर कारोबार हो रहा था.

JMM

इसे भी पढ़ें- व्यवसायियों का क्या टूट रहा मनोबल? देश में कारोबारी धारणा गिरकर तीन साल के निचले स्तर पर: सर्वे

इन कंपनियों के शेयर में देखी गयी बढ़त और गिरावट

टाटा मोटर्स, वेदांता, एनटीपीसी, पावरग्रिड, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई और एक्सिस बैंक के शेयरों में 1.65 प्रतिशत तक की बढ़त देखी गयी.

दूसरी तरफ, टीसीएस, हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, एमएंडएम, टेकएम, एचसीएल टेक और कोटक बैंक के शेयरों में 1.62 फीसदी की गिरावट देखी गयी.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

सोमवार को कैसा था बाजार का हाल

इससे पहले सोमवार को बाजार बंद होने के समय 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 160.48 अंक या 0.41 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,896.71 जबकि निफ्टी 35.85 अंक यानी 0.31 फीसदी चढ़कर 11,588.35 अंक पर बंद हुए.

शेयर बाजारों के पास उपलब्ध अस्थायी आंकड़े के मुताबिक सोमवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 216.44 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की बिकवाली की जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 591.72 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे.

अन्य एशियाई बाजारों की बात करें तो शंघाई कम्पोजिट इंडेक्स एवं निक्की में शुरुआती कारोबार में गिरावट जबकि हांग सेंग और कोस्पी में बढ़त देखने को मिली.

इसे भी पढ़ें- कार्यकर्ताओं को बीजेपी दे रही आडवाणी का उदाहरण, पार्टी विचारधारा के विपरीत जाने पर जा सकता है पद

रुपया शुरुआती कारोबार में पांच पैसे फिसला

शुरुआती कारोबार में मंगलवार को डॉलर के मुकाबले रुपया पांच पैसे टूटकर 68.59 पर खुला. देश के निर्यात में आठ महीने के बाद गिरावट का असर स्थानीय मुद्रा पर पड़ा.

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया 68.59 के स्तर पर खुला. जल्द ही शुरुआती कारोबार में यह थोड़ा संभलकर 68.55 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर पहुंच गया.

रुपया सोमवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले 68.54 के स्तर पर बंद हुआ था. विदेशी कारोबारियों का कहना है कि कमजोर कारोबार, विदेशी मुद्रा की निकासी एवं कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी का असर भी रुपया पर देखने को मिला.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like