न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बालाकोट एयर स्ट्राइक पर सिद्धू का तंज, आतंकी मारने गये थे या फिर पेड़ उखाड़ने, क्या यह चुनावी नौटंकी थी ?   

राजनीतिक दलों के नेता बालाकोट हमले पर विवादित बयान देने से बाज नहीं आ रहे हैं. अब  सेना के एयर स्ट्राइक पर एक बार फिर पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने विवादित बयान दे डाला है.

255

NewDelhi : राजनीतिक दलों के नेता बालाकोट हमले पर विवादित बयान देने से बाज नहीं आ रहे हैं. अब  सेना के एयर स्ट्राइक पर एक बार फिर पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने विवादित बयान दे डाला है.  सिद्धू ने ट्वीट कर मोदी सरकार से पूछा है कि एयर स्ट्रांइक में 300 आतंकी मारे गये हैं या नहीं? अगर नहीं तो फिर एयर स्ट्राहइक का क्या मकसद था? क्या इसका मकसद सिर्फ पेड़ गिराना ही था. इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, मनीष तिवारी, कपिल सिब्बसल, टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी व अन्ये नेता भी सवाल उठाते हुए विवादित बयान दे चुके हैं. बता दें कि कई विपक्षी नेताओं ने सरकार से एयर स्ट्राइक के सबूत भी मांगे हैं. सिद्धू ने ट्वीट किया है कि क्या वहां आतंकी मारने गये थे या फिर पेड़ उखाड़ने गये थे. क्या ये सिर्फ एक चुनावी नौटंकी थी. उन्होंने लिखा है कि सेना का राजनीतिकरण करना बंद करिए,  जितना देश पवित्र है उतनी ही सेना भी पवित्र है. ऊंची दुकान, फीका पकवान को दोहराने की जरूरत नहीं है.

इसे भी पढ़ें – राहुल जी, अमेठी में आपने शिलान्यास किया या सत्यानाश : स्मृति ईरानी  

 

केजरीवाल, मनीष तिवारी, कपिल सिब्बल, ममता भी उठा चुके हैं सवाल

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने इस ट्वीट के अलावा एक वीडियो भी ट्वीट किया है, जिसमें बालाकोट के कुछ स्थानीय निवासी कह रहे हैं कि वहां कुछ भी नहीं हुआ है.  नवजोत सिंह सिद्धू का इससे पहले भी एक बयान काफी विवादों में रहा था. जब उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले के बाद कहा था कि आतंकी हमले को लेकर किसी देश को पूरी तरह से टारगेट नहीं कर सकते हैं. इस बयान पर काफी बवाल हुआ था, जिसको लेकर सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ कैंपेन चला था और उन्हें द कपिल शर्मा शो से हटा दिया गया था;  दरअसल, रविवार को  भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एक रैली में दावा किया था कि एयर स्ट्राइक में 250 आतंकी मारे गये.  उनके इस बयान के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस नेता मनीष तिवारी, कपिल सिब्बल ने पूछा है कि अगर सेना ने कोई संख्या नहीं बताई तो भाजपा अध्यक्ष को ये कैसे पता चला?

Trade Friends

इसे भी पढ़ें – हमने एफ-16 मार गिराया, सबूत भी दिखाये, सितंबर तक राफेल भारत में आ जाने चाहिए

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like