न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सोनिया व चिदंबरम ने पूर्व पीएम को जन्मदिन की बधाई दी, कहा, #EconomicRecession से बाहर निकालने का रास्ता दिखा सकते हैं मनमोहन सिंह

सोनिया गांधी ने मोदी सरकार की ओर इशारा करते हुए कहा कि वर्तमान समय के शासक उनके (सिंह)  ज्ञान से बहुत कुछ सीख सकते हैं

41

NewDelhi   कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी व  पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को  जन्मदिन की बधाई दी है. इस क्रम में  सोनिया गांधी ने मोदी सरकार की ओर इशारा करते हुए कहा कि वर्तमान समय के शासक उनके (सिंह)  ज्ञान से बहुत कुछ सीख सकते हैं.  सोनिया ने एक बयान जारी कर कहा कि हम राष्ट्र निर्माण, समावेशी विकास और अर्थव्यवस्था को गति प्रदान करने में मनमोहन सिंह के शानदार योगदान को याद करते हैं.

उनके बेहतरीन नेतृत्व ने यह सुनिश्चित किया कि मुश्किल समय में भी भारत प्रतिबद्धित विकास की तरफ बढ़े.  मौजूदा समय के शासक उनके नैसर्गिक ज्ञान से बहुत कुछ सीख सकते हैं. सोनिया गांधी ने मनमोहन सिंह के स्वस्थ और समृद्ध जीवन तथा आगे भी राष्ट्र एवं कांग्रेस पार्टी की सेवा करते रहने की कामना की.

इसे भी पढ़ें : #PublicPrivatePartnership : मोदी सरकार छह और एयरपोर्ट निजी हाथों में सौंपेगी, छह एयरपोर्ट #AdaniGroup के पास हैं

 सरकार से आग्रह कि वह मनमोहन सिंह की बातों को सुनें

उधर आईएनएक्स मीडिया मामले में तिहाड़ जेल में बंद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भी  पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को जन्मदिन की बधाई देते हुए  कहा कि सिर्फ मनमोहन सिंह ही इस समय देश को आर्थिक मंदी से बाहर निकालने का रास्ता दिखा सकते हैं , इसलिए सरकार को उनकी बातें सुननी चाहिए. जान लें कि तिहाड़ जेल में बंद चिदंबरम की तरफ से उनके परिवार ने उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह टिप्पणी पोस्ट की है.

इसे भी पढ़ें : #Honey_Trap सेक्स रैकेट ने नेताओं के साथ 13 IAS को लिया था टारगेट में, वीडियो से  करती थीं ब्लैंक मेलिंग

आर्थिक मंदी के मुख्य कारण को नहीं समझा सरकार ने

पी चिदंबरम ने  कहा कि डॉक्टर मनमोहन सिंह को जन्मदिन की बधाई. आप दीर्घायु हों. मैं सरकार से आग्रह करता हूं कि वह मनमोहन सिंह की बातों को सुनें.  अगर इस वक्त देश को कोई आर्थिक बदहाली से बाहर निकालने का रास्ता दिखा सकता है तो वह मनमोहन सिंह हैं.

चिदंबरम के अनुसार  सरकार के रुख में बुनियादी गलती यह है कि उसने आर्थिक मंदी के मुख्य कारण को नहीं समझा है.  यह  मांग की कमी और नौकरियों, वेतन एवं अवसरों को लेकर निराशा बढ़ने के कारण है. डॉक्टर मनमोहन सिंह 26 सितंबर को  87 साल के हो गये.  वह मई, 2004 से मई 2014 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे.  इससे पहले वह नरसिंह राव की सरकार में वित्त मंत्री थे.

 

इसे भी पढ़ें : #Congress की अंदरूनी लड़ाई से कहीं झारखंड में दोहरायी न जाये कर्नाटक की कहानी!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like