न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#SouravGanguly बन सकते हैं बीसीसीआइ अध्यक्ष, आज करेंगे नामांकन

961

New Delhi: पूर्व भारतीय क्रिकेट के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली का बीसीसीआइ अध्यक्ष बनना लगभग तय माना जा रहा है. हालांकि पूर्व क्रिकेटर बृजेश पटेल भी उन्हें कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

लेकिन गांगुली को इस रेस में उनसे आगे माना जा रहा है. बीसीसीआइ अध्यक्ष पद की रेस में सौरव गांगुली और बृजेश पटेल सबसे आगे चल रहे हैं.

इधर बीजेपी अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड का सचिव नियुक्त किया जाना तय है.

इसे भी पढ़ेंः#CricketTest : दक्षिण अफ्रीका को पारी और 137 रन के अंतर से हराकर भारत ने श्रृंखला अपने नाम की

सूत्रों की मानें तो बीसीसीआइ की राज्य इकाइयों की अनौपचारिक बैठक में अमित शाह के बेटे जय शाह को सचिव बनाए जाने पर आम सहमति बन गई है.

इसके साथ ही केंद्रीय राज्य वित्तमंत्री अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल को कोषाध्यक्ष नियुक्त किये जाने की बात भी लगभग तय मानी जा रही है.

हालांकि फिलहाल बीसीसीआइ का नया अध्यक्ष कौन होगा, इसे लेकर राय स्पष्ट नहीं हो पाई. लेकिन बताया जा रहा है कि बीसीसीआई अध्यक्ष पद की रेस में सौरव गांगुली और बृजेश पटेल सबसे आगे चल रहे हैं.

गौरतलब है कि सोमवार नामांकन के लिए आखिरी दिन है. माना जा रहा है कि सभी उम्मीदवार निर्विरोध चुने जायेंगे. वहीं सौरभ गांगुली और बृजेश पटेल में मुकाबला है.

पूर्व कैप्टन गांगुली अगर बीसीसीआइ के नए अध्यक्ष बनते हैं तो वह सितंबर 2020 तक इस पद को संभालेंगे. बता दें कि 47 साल के गांगुली फिलहाल क्रिकेट असोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के मौजूदा अध्यक्ष हैं.

इसे भी पढ़ेंः#Science_and_technology भारतीय वैज्ञानिकों ने ‘प्लास्टिक खाने वाले’ जीवाणु की खोज की

शास्त्री और गांगुली का विवाद पुराना

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री और पूर्व क्रिकेटर सौरभ गांगुली के बीच मतभेद कोई नई बात नहीं है. अब जब माना जा रहा है कि 47 वर्षीय सौरभ बीसीसीआइ बोर्ड के अध्यक्ष बन सकते हैं, जो ये बात रवि शास्त्री को परेशान कर सकती है.

दोनों के बीच काफी समय से मतभेद है. बीसीसीआइ की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) में रहते सौरभ गांगुली रवि शास्त्री को कोच के लिए नहीं चुनना चाहते थे.

वहीं, एक बार एक टॉक शो में भी शास्त्री ने गांगुली को लेकर एक विवादित बयान दिया था. जिसके बाद दोनों के बीच तल्खी और बढ़ गयी.

इतना ही नहीं, समय-समय पर गांगुली कोच शास्त्री के रवैये की आलोचना करते रहे. वहीं, शास्त्री ने भी कई बार कहा कि कुछ लोग जानबूझकर टीम और मेरी बुराई करते हैं.

इसे भी पढ़ेंः#UP: मऊ में सिलेंडर ब्लास्ट से दो मंजिला इमारत ढही, 10 लोगों की मौत-12 से ज्यादा घायल

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like