न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Tag

वित्तीय वर्ष

PMAYG के लिए साल 2019-20 में बनने थे तीन लाख 22 हजार आवास, अब तक महज 6259 का ही निर्माण

Ranchi : ग्रामीण विकास विभाग मंत्रालय की ओर से साल 2016 में  प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (PMAYG )की शुरूआत की गयी. झारखंड में योजना के तहत साल 2016 से 2020 तक में 8 लाख 50 हजार 791 आवास बनने थे. लेकिन राज्य सरकार की ओर से अब तक चार लाख…

घट रही 2000 के नोटों की संख्या, वित्तीय वर्ष 2019 में 7.2 करोड़ की आयी कमी

Mumbai: 2016 में हुई नोटबंदी के बाद बाजार में 2,000 रुपये के नये नोट आये थे. इसे लेकर कई चरह की बहस हुई थी. लोगों की शिकायत की थी कि इसका फुटकर कराने में काफी दिक्कत आती है.कुछ ने इससे ब्लैक मनी कम कैसे होगी, इस पर सवाल उठाये थे. हालांकि…

चालू वित्त वर्ष 2019-20 में बाजार से 55,000 करोड़ रुपये जुटाएगा नाबार्ड

New Deilhi: राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) की चालू वित्तीय वर्ष में करीब 55 हजार करोड़ रुपये जुटाने की योजना है.नाबार्ड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी अपने कारोबार वृद्धि लिये वित्त जरूरतों को पूरा करने और विभिन्न कृषि तथा…

मुख्यमंत्री के भवन निर्माण विभाग का पांच साल का बजट 2849 करोड़, अब तक नहीं बन पाया विधानसभा भवन व…

Ranchi : राज्य में आधारभूत संरचना से जुड़े भवन निर्माण विभाग में पिछले पांच वित्तीय वर्ष में 2849.56 करोड़ रुपये खर्च किये गये हैं. इसके विभागीय मंत्री खुद मुख्यमंत्री रघुवर दास हैं. 2014-15 में भवन निर्माण विभाग का बजट 250 करोड़ रुपये था.…

समय से लेट चल रहे राजधानी के तीन रेलवे ओवरब्रिज, 80 फीसदी काम ही हुआ पूरा

Ranchi : रेल निर्माण निगम लिमिटेड की तीन परियोजनाएं समय से लेट चल रही हैं. राजधानी रांची में रेल निर्माण निगम लिमिटेड की तरफ से नामकुम आरा गेट, टाटीसिलवे और सिल्ली में तीन रेलवे ओवरब्रिज (आरओबी) बनाये जाने थे. इन परियोजनाओं की लागत 150…

तीसरी तिमाही में पांच तिमाहियों के निचले स्तर पर रही देश की जीडीपी विकास दर

चालू वित्तीय वर्ष की तीसरी तिमाही में 6.6 प्रतिशत रही जीडीपी विकास दरNew Delhi : भारत-पाकिस्तान के बीच चल रही तनातनी की खबरों के बीच गुरुवार को यह खबर भी आयी कि चालू वित्तीय वर्ष की तीसरी तिमाही में देश की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी)…

डीवीसी को चालू वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर होगा 1200 करोड़ का घाटा

SanjayBermo : लगातार घाटे का दंश झेल रही पब्लिक सेक्टर की कंपनी डीवीसी को चालू वित्तीय वर्ष 2018-19 की समाप्ति पर 12 सौ करोड़ रुपये के घाटे का सामना करना होगा. फरवरी 2019 (अब तक) तक डीवीसी को 11 सौ करोड़ रुपये के घाटा हो चुका है. जबकि, 31…