न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रंगमंच कलाकार का पुणे पुलिस पर आरोपः मुस्लिम होने के कारण किया गया प्रताड़ित

925

Pune: मुंबई के एक थिएटर ग्रुप के कलाकारों ने पुणे पुलिस पर परेशान करने का आरोप लगाया है. किस्सा-कोठी नाम के नाट्य ग्रुप के सदस्यों का कहना है कि उन्हें पुणे के एक होटल में पुलिस द्वारा बस इसलिए प्रताड़ित किया गया क्योंकि ग्रुप का एक सदस्य मुस्लिम है.

Trade Friends

अंग्रेजी अखबार ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ में छपी खबर के अनुसार, मुंबई का थिएटर ग्रुप अपने एक कार्यक्रम के लिए पुणे आया हुआ है. और एक होटल में ठहरा है. जहां गुरुवार तड़के सुबह इस ग्रुप के सदस्यों को पुलिस ने बगैर किसी कारण के निशाना बनाया और प्रताड़ित किया.

इसे भी पढ़ेंःकश्मीर मसले पर UNSC की बैठक में पाकिस्तान के साथ सिर्फ चीन, रूस ने निभायी भारत से दोस्ती

क्या है पूरा मामला

किस्सा-कोठी नाट्य ग्रुप के सदस्यों का कहना है कि गुरुवार की तड़के सुबह, जब ये लोग पुणे के होटल में सो रहे थे. तब दो पुलिस वालों ने होटल के कर्मी के साथ इनके कमरे पर दस्तक दी.

दरवाजा खोलने के साथ ही पुलिस ने ग्रुप के एक सदस्य यश खान के बारे में पूछताछ की. नाट्य कलाकार यश खान ने आरोप लगाते हुए बताया कि दरवाजा खुलते ही एक पुलिसवाले ने पूछा, यश खान कौन है, तुम हो यश खान. जब यश खान ने जवाब में सिर हिलाया, तो पुलिस उसके कमरे में दाखिल हो गय़ी और उसके सामानों को सर्च करने लगी.

WH MART 1

जबकि दूसरे पुलिस कर्मी ने यश खान से उसका आईडी कार्ड मांगा, और पूछताछ की. वहीं पुलिस को जांच के दौरान उनके पास से कोई भी आपत्तिजनक चीजें नहीं मिली. जिसके बाद पुलिस कर्मी चले गये.

इसे भी पढ़ेंःमोदी सरकार में चीन को व्यापारिक नुकसान पहुंचाने की इच्छाशक्ति नहीं दिखती

किसी खास समुदाय को नहीं किया गया टारगेट- पुलिस

वहीं इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए पिंपरी-चिंचवड़ की पुलिस उपायुक्त स्मिता पाटिल ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के मद्देजनर सुरक्षा के सख्त इंतजाम किये गये थे. और इसी कड़ी में बहुत सारे होटल, लॉज की जांच की गयी थी. और ये बात निराधार है कि पुलिस ने एक खास समुदाय को निशाना बनाया है.

गौरतलब है कि किस्सा-कोठी नाट्य ग्रुप इनदिनों पुणे में एक नाटक ‘ रोमियो रविदास और जुलिएट देवी’ के मंचन के लिए आया हुआ है.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू -कश्मीर  : कश्मीरी पत्रकार गिरफ्तार, एडीजी ने नहीं बतायी गिरफ्तारी की वजह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like