न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लेवी के लिए #TPC और #JPC के बीच हो सकता टकराव, कोल परियोजना में नहीं थम रहा उग्रवादियों का उत्पात

1,945

Saurav Singh

Chatra: चतरा के विभिन्न कोल परियोजना में वसूली को लेकर उग्रवादियों के बीच टकराव हो सकता है. पिपरवार थाना क्षेत्र स्थित अशोका, पिपरवार एवं पुरनाडीह कोल परियोजना और टंडवा थाना क्षेत्र स्थित मगध और आम्रपाली कोल परियोजना में लेवी की वसूली के लिए दो उग्रवादी संगठन टीपीसी और जेपीसी के बीच टकराव की संभावना गहरा रही है.

JMM

चतरा जिले में स्थित इन सभी कोल परियोजनाओं में उग्रवादी संगठनों के उत्पात थमने का नाम नहीं ले रहा है. पिछले एक सप्ताह के दौरान उग्रवादी संगठनों के द्वारा दहशत फैलाने के उद्देश्य गोलीबारी-हत्या जैसी घटना को अंजाम दिया गया. इन सब के पीछे एकमात्र वजह है लेवी वसूलना.

इसे भी पढ़ेंः#Ranchi: ज्वेलरी दुकान में लूटपाट का विरोध करने पर दो भाइयों को मारी गोली, रिम्स में चल रहा इलाज

टीपीसी विस्थापन समिति के नाम पर और जेपीसी दहशत फैला कर वसूल रहे लेवी

विस्थापन समिति और कोल फील्ड लोडर एसोसिएशन के नाम पर पिपरवार थाना क्षेत्र स्थित अशोका, पिपरवार एवं पुरनाडीह और टंडवा थाना क्षेत्र मगध और आम्रपाली कोल परियोजना में टीपीसी उग्रवादियों के द्वारा वसूली का खेल चल रहा है,तो वही दूसरी ओर जेपीसी उग्रवादियों के द्वारा गोलीबारी जैसी घटना का अंजाम देकर लेवी वसूलने की कोशिश में लगे हुए है.

टीपीसी और जेपीसी उग्रवादी संगठन के बीच टकराव की आशंका तेज

चतरा जिले के पिपरवार थाना क्षेत्र स्थित अशोका,पिपरवार एवं पुरनाडीह कोल परियोजना और टंडवा थाना क्षेत्र स्थित मगध और आम्रपाली कोल परियोजना में लेवी की वसूली के लिए टीपीसी और जेपीसी उग्रवादी संगठनों के बीच टकराव की आशंका तेज हो गई है.

शुक्रवार की रात जेपीसी उग्रवादी संगठन के द्वारा छोड़े गये पर्चा में कहा गया है कि टीपीसी और भाकपा माओवादी आम जनता को गुमराह कर रहे हैं. सीसीएल ठेकेदार और उद्योगपति से पैसा लेकर अपनी संपत्ति अर्जित करने में तुले हुए हैं इसे मार कर भगा देंगे.

इसे भी पढ़ेंः#NIA ने किया आगाह, #JMB ने झारखंड, बिहार, महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल में गतिविधियां शुरू की

कोयला कारोबारियों में दहशत का माहौल

टीपीसी उग्रवादी के द्वारा कोयला कारोबारी साबिर अहमद की दिनदहाड़े हत्या और सीसीएल की आम्रपाली प्रोजेक्ट के शिवपुर रेलवे साइडिंग में जेपीसी उग्रवादियों के द्वारा गोलीबारी की घटना के बाद से टंडवा, पिपरवार और खलारी कोयला क्षेत्र के सभी कोयला कारोबारियों के बीच दहशत का माहौल है.

जिस तरह से लेवी के वसूली के लिए उग्रवादी संगठनों का उत्पात जारी है ऐसे में कोयला का कारोबार प्रभावित होने की आशंका है.

लेवी नहीं देने पर TPC ने कोल लिफ्टर की हत्या की

गौरतलब है कि खलारी के रहने वाले कोयला व्यवसायी साबिर अहमद की पिपरवार थाना क्षेत्र अंतर्गत एनके एरिया के पुरनाडीह कांटाघर के समीप 6 अक्टूबर की सुबह गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. हत्या टीपीसी उग्रवादियों के द्वारा लेवी नहीं देने को लेकर की गयी.

बता दें साबिर अहमद को घटना से कुछ दिन पहले फोन पर टीपीसी के एरिया कमांडर आदेश गंझु के आदमी सूर्या ने फोन पर धमकी दी थी कि तुम प्रति ट्रक 300 रुपये रंगदारी दो, नहीं तो अंजाम बुरा होगा. टीपीसी के लिए पैसा वसूली करने वाले नरेश गंझू और विनय खलको ने बोला था कि काम करोगे तो पार्टी में पैसा देना होगा.

JPC उग्रवादियों ने हाइवा चालक को मारी गोली, कोलयरी बंद रखने का सुनाया फरमान

टंडवा थाना क्षेत्र स्थित सीसीएल की आम्रपाली प्रोजेक्ट के शिवपुर रेलवे साइडिंग में जेपीसी उग्रवादियों ने शुक्रवार देर रात करीब एक बजे एक हाइवा चालक को गोली मार दी. घटना को ट्रांसपोर्टिंग रोड होन्हे में अम्बे बैरियर के पास अंजाम दिया गया.

घटना के बाद घायल हाइवा चालक को इलाज के लिए रिम्स रेफर किया गया. घायल चालक कसियाडीह निवासी लालधारी महतो है. गोलीबारी की घटना का अंजाम देने के बाद जेपीसी उग्रवादियों के द्वारा छोड़े गए पर्चा में कहा गया था कि आम्रपाली मगध प्रोजेक्ट में डीईओ होल्डर और लिफ्टर संगठन से आदेश लिए बगैर काम कर रहे हैं.

इसे बंद करो, नहीं तो फौजी कार्रवाई की जाएगी. आम्रपाली मगध में विस्थापित हो रहे, रैयत के साथ सीसीएल द्वारा नौकरी मुआवजा दिए बिना पुलिस-प्रशासन के बल पर जबरदस्ती कोयला उत्पादन किया जा रहा है. इसे भी बंद किया जाए.

इसे भी पढ़ेंःआपके सवालों को इन बहुआयामी कोलाहलों में कोई नहीं सुननेवाला, जवाब की तो बात ही बेमानी है…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like