न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#TVNL नहीं दे रहा है मृत कर्मियों के आश्रितों को अनुकंपा के आधार पर नौकरी

टीटीपीएस में आदिवासियों को नही मिल रही अनुकंपा पर नौकरी, दर दर भटक रहे आश्रित

672

Pravin kumar

Ranchi : झारखंड सरकार ने अपने आदेश में अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति योजना के तहत सरकारी कर्मियों के साथ-साथ राज्य के सभी स्वशासी निकायों, बोर्ड, निगम, विश्वविद्यालयों में कार्यरत मृत कर्मी के आश्रितों  को अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति देने की नियमावली लागू कर रखी है.

Trade Friends

लेकिन राज्य सरकार के स्वामित्व वाला तेनुघाट विद्युत निगम लिमिटेड सरकारी आदेश का पालन नहीं कर रहा है. तेनुघाट विद्युत निगम में काम करने वाले 20 कर्मियों के आश्रित नौकरी की आस में दर-दर भटक रहे है.

इसे भी पढ़ें : झारखंड के डीसी IAS Code of Conduct के खिलाफ जाकर चला रहे हैं #jharkhandwithmodi कैंपेन

उप कार्मिक निदेशक ने दो माह में नौकरी देने का निकाला था पत्र

टीटीपीएस के 20 मृत कर्मियों के आश्रितों की नियुक्ति के संबंध में उप कार्मिक निदेशक टीटीपीएस लालपनिया की ओर से 30 अगस्त 2018 को ही अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति करने संबंधी पत्र निर्गत किया गया था. पत्र निर्गत होने के 13 महीने गुजर जाने के बाद भी अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति टीटीपीएस में नहीं की गयी.

30 अगस्त को प्रबंधन की ओर से निर्गत किये पत्र में कहा गया था कि 14 मृतकों के आश्रितों के कागजात की जांच-पड़ताल कर ली गयी है व प्रबंधक द्वारा इनके नियोजन की प्रक्रिया एक महीने में कर दी जायेगी एवं शेष बचे हुए मृतक आश्रितों का नियोजन दो महीने में झारखंड ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड द्वारा निर्धारित नियम के तहत किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : धनबादः बगैर हेलमेट बाइक चलाना युवक को पड़ा महंगा, सड़क दुर्घटना में मौत

20 मृत कर्मियों के आश्रितों ने कब किया अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति का दावा

मृत कर्मी का नाममृत्यु की तिथिआश्रितों का नाम और संबंधटीटीपीएस में किया आवेदन
1.स्व. रतीया मांझी09.06.2010पूरन किस्कू,पुत्र18.04.20165
2.जीतन मांझी09.11.2011दीपक टुडू, पुत्र07.05.2015
3.शनिचरवा मुर्मू20.12.2011कार्तिक मुर्मू,पुत्र07.05.2015
4.रतीलाल मांझी06.10.2012जितेन्द्र किस्कू, पुत्र08.07.2013
5.धेना मांझी17.06.2013अशोक किस्को, पुत्र29.08.2013
6. जिब्राइल हांसदा13.03.2014दाउद हांसदा, पुत्र16.05.2015
7. सोमरा मांझी17.05.2011अरविंद मरांडी, पुत्र21.08.2015
8.चांदमुनी देवी18.06.2014झुमरी कुमारी, पुत्री27.04.2015
9. गुरू राम मांझी22.11.2014अशोक बास्के, पुत्र06.02.2015
10.नारायण राम07.01.2016अभिषेक कुमार, पुत्र08.04.2016
11.रामजी मांझी21.09.2016राजेश बास्के, पुत्र09.11.2016
12.नकुल सोरेन21.09.2016अनिता सोरेन, पुत्री14.06.2017
13. सुखलाल मांझी28.09.2016अनिल बास्के, पुत्र19.06.2017
14.भोला सोरेन17.02.2016शिबू सोरेन पुत्र15.07.2016
15. सोहन मांझी05.02.2015पार्वती देवी, पत्नी22.01.2016
16. जितराम मांझी05.02.2015लालू हेब्रम, पुत्र20.07.2015
17.बाबूचंद मांझी22.04.2017सुनीता देवी11.07.2017
18. धेना राम मांझी31.03.2017रोहित हांसदा20.07.2017
19.भोदर मांझी31.03.2017विजय सोरेन22.06.2017
20.अघुन मांझी12.12.2015दिलीप मरांडी07.04.2016

 

टीटीपीएस लालपनिया अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति के लिए निकाले गये पत्र के सबंध में 20 लोगों  की नियुक्ति को लेकर आपत्ति मांगी गायी थी. इस पर आवेदकों के आवेदन में किसी प्रकार की कोई आपत्ति नही मिला. 20 लोगों की अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति रोककर रखी गया है. सभी आदिवासी और कमजोर वर्ग के आश्रित हैं.

आवेदक पार्वती देवी का कहना है हमलोग आदिवासी हैं, शायद इसीलिए हमारी नियुक्ति रोककर रखी गयी है. पति की मृत्यु के बाद चार बच्चे का भरना पोषण करना मुश्किल हो रहा है. प्रबंधन सिर्फ नौकरी देने के नाम पर टाल-माटोल कर रहा है.

क्या कहते हैं एच आर टीटीपीएस स्वेता पूर्ती

उपरोक्त मामले पर टीवीएनएल के एचचार से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि आज की बोर्ड बैठक में नियुक्ति का निर्णय ले लिया जायेगा. वहीं टाले डाले जाने के सवाल पर एचआर ने कुछ भी नहीं कहा.

SGJ Jewellers

इसे भी पढ़ें : IBPS क्लर्क के लिए नोटिफिकेशन जारी, 17 सितंबर से 9 अक्टूबर तक करें ऑनलाइन एप्लीकेशन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like