न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

परिवार की एकलौती बेटी को UGC दे रहा 36200 रुपये की स्कॉलरशिप, 31 अक्टूबर तक करें आवेदन

1,521

Ranchi: अगर आप आपने परिवार की इकलौती बेटी हैं. आप किसी भी विषय से मास्टर कोर्स करना चाह रही हैं तो इसमें यूजीसी आपकी मदद करेगा.

यूजीसी की ओर से इंदिरा गांधी स्कॉलरशिप फोर सिंगल गर्ल चाइल्ड के लिए एप्लीकेशन मंगाये जा रहे हैं. इसके लिए आवेदन चल रहा है. यूजीसी की ओर से इस तरह का स्कॉलरशिप देने का मकसद बेटियों का उच्च शिक्षा के प्रति बढ़ावा देना है.

JMM

इसे भी पढ़ेंःएनटीए जेइइ मेन के लिए अब 2 की बजाय 3 सितंबर से होगा रजिस्ट्रेशन

प्रतिवर्ष मिलेंगे 36,200 रुपये

इस स्कॉलरशिप के लिए पूरे देश के केवल 3000 लड़कियों का चयन किया जायेगा. इन्हीं चयनित लड़कियों को स्कॉलरशिप के रूप में प्रतिवर्ष 36 हजार 200 रुपये की स्कॉलरशिप दी जायेगी.

लेकिन ध्यान रखने वाली बात यह है कि जिन लड़कियों को यह स्कॉलरशिप दी जायेगी, उन्हें किसी अन्य प्रकार का स्कॉलरशिप नहीं दी जायेगी.

Bharat Electronics 10 Dec 2019

यूजीसी की ओर से जारी नोटिफिकेशन के मुताबिक स्कॉलरशिप की अवधि दो साल की होगी. साथ ही यह भी कहा गया है कि अगर दो साल के दौरान छात्रा कोर्स बदलती है या फिर परीक्षा में फेल हो जाती है तो फिर स्कॉलरशिप नहीं मिलेगी.

कोर्स के पहले वर्ष में करना है आवेदन

इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन पीजी कोर्स के नामांकन के पहले वर्ष में करना होगा. वहीं एप्लीकेशन देने वाली छात्रा का सिंगल चाइल्ड होना जरूरी है. अगर आवेदक जुड़वा हैं तो भी आवेदन मान्य होगा.

इसे भी पढ़ेंः खस्ताहाल इकोनॉमीः आंकड़ों की हकीकत से मुंह छिपाकर खुद को ही छलने की कोशिश कर रही है सरकार

वैसी छात्राएं जो डिस्टेंस कोर्स से पीजी कोर्स कर रही हैं, उन्हें आवेदन नहीं मिल पायेगा. साथ ही आवेदक की उम्र 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए. आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर 2019 है.

ऑनलाइन करना होगा आवेदन

सिंगल गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप के लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन देना होगा. इसके लिए नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल में जाकर खुद का रजिस्ट्रेशन करना होगा.

यहां जो आवेदन आयेगा, उसमें आवेदक को एजुकेशनल क्वालिफिकेशन से संबंधित सर्टिफिकेट, बैंक पासबुक की स्कैन कॉपी, आधार नंबर आदि अपलोड करना होगा.

आधा-अधूरा एप्लीकेशन स्वीकार नहीं किया जायेगा. वहीं स्कॉलरशिप के तहत मिलने वाली राशि आवेदक के बैंक अकाउंट्स में जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः600 रुपये की करीब 5 लाख साड़ियां, लागत 30 करोड़, वही कंपनी करेगी सप्लाई जिसका टर्न ओवर 1000 करोड़ 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like