न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

यूपी : जमीन विवाद में हुई झड़प में 24 गिरफ्तार, मृतकों की संख्या 10 हुई

795

Sonbhadra (Uttar Pradesh) : सोनभद्र में जमीन विवाद को लेकर बुधवार को हुई झड़प के मामले में 24 लोग गिरफ्तार किए गए हैं. जबकि चोट की वजह से एक और व्यक्ति की मौत हो जाने के चलते मृतकों की संख्या 10 हो गई है. अधिकारियों ने गुरुवार को यह जानकारी दी.

ग्राम प्रधान और उसके समर्थकों द्वारा एक प्रतिद्वंद्वी समूह पर कथित तौर पर गोलियां बरसाने की घटना में 18 अन्य घायल हो गए. मृतक गोंड आदिवासी समुदाय से थे.

पुलिस अधीक्षक एस टी पाटिल ने बताया कि 24 व्यक्ति गिरफ्तार किए गए हैं और अन्य की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.

61 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

पुलिस ने ग्राम प्रधान के दो भतीजों- गिरिजेश और विमलेश को भी गिरफ्तार कर लिया है और उसका भी पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है. 11 नामजदों के साथ 61 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.

इसे भी पढ़ें- मध्य प्रदेशः गोरक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों को हो सकती है पांच साल की सजा, विधेयक पेश

जमीन विवाद में की हत्या

पुलिस महानिदेशक ओ.पी. सिंह ने बताया कि सोनभद्र के घोरावल थाना क्षेत्र के उधा गांव में दो साल पहले ग्राम प्रधान यज्ञदत्त ने एक आईएएस अधिकारी से 90 बीघा जमीन खरीदी थी.

यज्ञदत्त ने इस जमीन पर कब्जे के लिये बड़ी संख्‍या में अपने साथियों के साथ पहुंचकर ट्रैक्टरों से जमीन जोतने की कोशिश की. स्थानीय ग्रामीणों ने इसका विरोध किया. इसके बाद ग्राम प्रधान पक्ष के लोगों ने स्‍थानीय ग्रामीणों पर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं.

उन्होंने बताया कि इस वारदात में तीन महिलाओं समेत नौ लोगों की मौत हो गयी और 19 अन्य जख्मी हो गये. इस मामले में ग्राम प्रधान के भतीजों गिरिजेश और विमलेश को गिरफ्तार कर लिया गया है. बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है.

पुलिस महानिदेशक ने बताया कि पुलिस ने जमीन के विवाद में ग्राम प्रधान पक्ष को पूर्व में भी पाबंद किया था और उसकी सम्पत्ति कुर्क करने की कार्रवाई भी मजिस्ट्रेट के यहां चल रही है.

इसे भी पढ़ें- लातेहारः नक्सलियों ने कई गाड़ियों में लगायी आग, पुलिस मुखबिरी के आरोप में पिता-पुत्र की पिटायी

परिजनों को पांच-पांच लाख रुपये की सहायता

उन्होंने बताया कि इस घटना के बाद मध्य प्रदेश पुलिस को भी सतर्क कर दिया गया है. जरूरत पड़ने पर जमीन बेचने वाले आईएएस अधिकारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लेते हुए मिर्जापुर के मण्डलायुक्त और  वाराणसी जोन के अपर पुलिस महानिदेशक को घटना के कारणों की संयुक्त रूप से जांच करने के निर्देश दिये हैं. साथ ही लापरवाही सामने आने पर जिम्मेदारी तय करते हुए 24 घण्टे में रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिये हैं.

SGJ Jewellers

योगी ने इस घटना में मारे गये लोगों के परिजन को पांच-पांच लाख रुपये की सहायता का ऐलान किया है. उन्होंने जिलाधिकारी सोनभद्र को निर्देश दिए हैं कि वह बताएं कि ग्रामवासियों को पट्टे आखिर क्यों मुहैया नहीं कराए गए थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like