न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

CCD के फाउंडर व पूर्व विदेश मंत्री के दामाद वीजी सिद्धार्थ का मिला शव, 36 घंटे से थे लापता

1,414

Bengaluru : कैफे कॉफी डे के मालिक व पूर्व विदेश मंत्री एसएम कृष्णा के दामाद वीजी सिद्धार्थ का शव मिल गया है. सिद्धार्थ 36 घंटों से लापता थे. लगातार पुलिस उनकी खोज में लगी थी. और इसी को लेकर करीब दो सौ लोगों का दल मेंगलुरु के पास नेत्रावती नदी में उनकी तलाश कर रहा था. गौरतलब है कि सोमवार 6.30 बजे सिद्धार्थ नेत्रावती नदी के पुल के पास से लापता थे.

वहीं, मंगलुरु के पुलिस कमिश्नर संदीप पाटिल ने कहा कि हमें बुधवार तड़के शव मिला है. इसे पहचानने की आवश्यकता है, हमने पहले ही सिद्धार्थ के परिवार वालों को सूचित कर दिया है. फिलहाल हम शव को पोस्टमार्टम के लिए वेनलॉक अस्पताल भेज रहे हैं. हम आगे की जांच जारी रखेंगे.

JMM

दक्षिण कन्नड़ के उपायुक्त शशिकांत सेंथिल ने घटनास्थल का दौरा किया और उसके बाद उन्होंने कहा कि एक शव मिला है जो कैफे कॉफी डे के मालिक वीजी सिद्धार्थ का लगता है.

इसे भी पढ़ें- अब्दुल रज्जाक अंसारी इंस्टीट्यूट छात्रों के भविष्य के साथ कर रहा खिलवाड़: न पूरा करता है कोर्स और न लेता है परीक्षा

क्या है मामला

सिद्धार्थ 29 जुलाई को बेंगलुरु से मंगलुरु जा रहे थे. इसी दौरान बीच रास्ते में सोमवार शाम करीब 6.30 में सिद्धार्थ ने ड्राइवर से नेत्रावती नदी के पुल के पास कार रोकने को कहा और फिर खुद कार से उतर गए और टहलने लगे.

काफी देर बीत जाने के बाद जब वो वापस नहीं लौटे तो ड्राइवर उन्हें इधर-उधर खोजने लगा. लेकिन वह नहीं मिले. जिसके बाद ड्राइवर ने सिद्धार्थ के बेटे को फोन किया और मामले की जानकारी दी. और फिर पुलिस को सिद्धार्थ के लापता होने की सूचना दी गयी. तब से पुलिस लगातार उनकी खोज में लगी थी

इसे भी पढ़ें- प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार के विरोध में रांची से लेकर दिल्ली तक धक्का-मुक्की

लापता होने से पहले फोन कर कहा- कंपनी पर है सात हजार करोड़ का लोन

वहीं लापाता होने से पहले सिद्धार्थ ने अपनी कंपनी के सीएफओ से बात की थी और कहा था कि कॉफी कैफे डे पर सात हजार का लोन है. साथ ही कंपनी का ख्याल रखने के लिए कहा था. उन्होंने सीएफओ से 56 सेकेंड के लिए बात की थी. जब वो बात कर रहे थे उस दौरान वह काफी ज्यादा निराश दिख रहे थे. इसके बाद से सिद्धार्थ का मोबाइल फोन भी स्विच ऑफ आ रहा है.

पुलिस को शक था कि कहीं लोन की वजह से सिद्धार्थ ने सुसाइड तो नहीं कर लिया. इसी को लेकर पुलिस लगातार सिद्धार्थ की खोज कर रही थी. इस घटना के बाद से पूर्व विदेश मंत्री और भाजपा नेता एसएम कृष्णा समेत पूरा परिवार परेशान था. दक्षिण कन्नड़ पुलिस सिद्धार्थ की खोज कर रही थी. जिस स्थान से वह गायब हुए थी वहां एक नदी है जिसमें पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही थी.

सिद्धार्थ की खोज के लिए डॉग स्क्वायड की मदद भी ली जा रही थी. नेत्रावती नदी के पुल के पास वह गायब हुए थे. वहां से करीब 600 मीटर की दूरी पर समुद्र है. यह भी बताया जा रहा है कि सोमवार रात को हाइटाइड भी आया था.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like