न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अब विनोबा भावे विश्वविद्यालय ने अपने स्टूडेंट्स का एक साल कर दिया बर्बाद

काउंसलिंग में मांगा जाता है रिजल्ट, लेकिन अब तक नहीं ली गयी है स्नातक फाइनल ईयर की परीक्षा

1,314

Kumar Gaurav
Ranchi : झारखंड में शिक्षा का क्या हाल है, इसका अंदाजा आप इन बातों से लगा सकते हैं- जैक इंटर आर्ट्स की परीक्षा पास किसी भी स्टूडेंट को देश के नामी-गिरामी कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल पायेगा. वजह यह कि जैक ने इंटर आर्ट्स का रिजल्ट तब निकाला, जब सारे विश्वविद्यालयों ने एडमिशन बंद कर दिया. अब विनोबा भावे विश्वविद्यालय ने अपने ग्रैजुएशन के स्टूडेंट्स का एक साल बर्बाद कर दिया है. विनोबा भावे विश्वविद्यालय ने स्नातक के फाइनल र्इयर के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा अब तक आयोजित नहीं करायी है. जबकि, देश के लगभग सभी विश्वविद्यालयों ने स्नातक के रिजल्ट जारी कर दिये हैं और पीजी में एडमिशन के लिए सभी विश्वविद्यालयों में काउंसलिंग भी हो रही है. ऐसे में विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग के किसी भी स्टूडेंट का पीजी में एडमिशन इस साल नहीं हो पायेगा. इस गंभीर मुद्दे पर विनोबा भावे विश्वविद्यालय अब तक गंभीर नहीं है.

इसे भी पढ़ें- रिम्स का ट्रॉमा सेंटर तीन माह में होगा शुरू, 100 बेड का होगा ट्रामा सेंटर

Trade Friends

काउंसलिंग में मांगा जाता है रिजल्ट और अब तक परीक्षा ही नहीं हुई

देश के सभी विश्वविद्यालयों में पीजी में एडमिशन की प्रक्रिया अपने अंतिम चरण में है. मार्च-अप्रैल में इन कॉलेजों में एडमिशन के लिए प्रतियोगी परीक्षा भी आयोजित की गयी थी. इसके रिजल्ट के बाद काउंसलिंग भी जारी है. काउंसलिंग में स्टूडेंट्स से फाइनल परीक्षा के रिजल्ट मांगे जाते हैं, पर विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग ने अब तक परीक्षा ही नहीं ली है. जब तक यह विनोबा भावे विश्वविद्यालय परीक्षा लेकर उसका रिजल्ट जारी करेगा, उस वक्त तक पीजी में एडमिशन के लिए होनहारों के पास विनोबा भावे विश्वविद्यालय में ही एडमिशन लेने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचेगा.

इसे भी पढ़ें- भारतीय संस्कृति और कानून को समझने गिरिडीह पहुंचे चीनी युवा

WH MART 1

रांची विवि ने जारी कर दिये हैं अपने रिजल्ट

रांची विश्वविद्यालय ने अपने कॉलेजों के स्नातक के रिजल्ट मई के अंतिम और जून के पहले सप्ताह में ही जारी कर दिये थे. विनोबा भावे विश्वविद्यालय हजारीबाग की स्थिति पहले भी ऐसी ही रही है. किसी न किसी कारणवश पहले भी रिजल्ट के प्रकाशन में देर होती रही है.

प्रतिकुलपति ने कहा- परीक्षा नियंत्रक से समझिये

परीक्षा में हो रही देरी के बारे में जब विनोबा भावे विश्वविद्यालय की प्रतिकुलपति से बात करने की कोशिश की गयी, तो उन्होंने कहा कि इस मामले में आप परीक्षा नियंत्रक से बात करें. वहीं, कुलपति रमेश शरण का नंबर स्विच्ड ऑफ मिला.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like