न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#WestBengal : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी शिक्षकों से मिलकर सुनेंगी समस्याएं

473

Kolkata : पश्चिम बंगाल में लगातार आंदोलरत शिक्षकों से मुलाकात कर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उनकी समस्याएं सुनने वाली हैं. रविवार को इस बारे में राज्य तृणमूल कांग्रेस की ओर से जानकारी दी गयी है.

बताया गया है कि आगामी पांच नवम्बर को कोलकाता के नेताजी इनडोर स्टेडियम में शिक्षकों के साथ “गेट टुगेदर” करने करेंगी. राज्य भर के सभी सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के शिक्षकों को आमंत्रित किया गया है.

खबर है कि इसमें शिक्षकों द्वारा मांगी जा रही सातवां वेतन आयोग की सिफारिशों के बारे में विस्तार से चर्चा होगी.

इसे भी पढ़ें : #Divyang और 80 साल से ज्यादा उम्र के मतदाताओं के लिए पहली बार पोस्टल बैलेट की व्यवस्था

राज्यपाल ने किया था मुलाकात का आह्वान

राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने पहले ही जादवपुर यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों को विभिन्न मुद्दों पर मुलाकात करने का आह्वान किया था.

राज्य सरकार में पब्लिक इंस्ट्रक्शन डिपार्टमेंट के एजुकेशनल प्रोफेसर डॉ जयश्री राय चौधरी की ओर से एक आधिकारिक चिट्ठी राज्य भर के सभी शिक्षक संगठनों को भेजी गयी है.

जादवपुर यूनिवर्सिटी टीचर्स एसोसिएशन के एक सदस्य ने गोपनीयता बरकरार रखने की शर्त पर इसकी पुष्टि की.

इसे भी पढ़ें : #ElectionCommission के सी-विजिल एप से करें आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत, 100 मिनट में होगी कार्रवाई

आधिकारिक चिट्ठी मिली है

बताया कि एक आधिकारिक चिट्ठी मिली है जिसमें नेताजी इनडोर स्टेडियम में पांच नवम्बर को सुबह 11बजे से मुलाकात के लिए बुलाया गया है. हम उम्मीद करते हैं कि हम शिक्षकों को मिलने वाले यूनिवर्सिटी ग्रांट कमीशन के पैमाने के मुताबिक वेतन पर चर्चा कर कोई बड़ा फैसला लेंगी.

इधर राज्य प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की कि राज्यपाल अगर शिक्षकों से मुलाकात कर उस पर कोई आधिकारिक रुख अख्तियार करते हैं तो इससे राज्य सरकार की किरकिरी हो सकती है.

चुनाव में पड़ सकता है नकारात्मक प्रभाव

चुनाव के समय उसका नकारात्मक प्रभाव भी मुख्यमंत्री के खिलाफ पड़ सकता है. इसलिए राज्यपाल को कोई भी मौका दिये बगैर सीधे मुख्यमंत्री ने अब सभी स्तर के शिक्षकों से मुलाकात कर उनसे सीधे उनकी समस्याएं सुनने की योजना बनायी है.

उल्लेखनीय है कि राज्यपाल ने कुछ दिनों पहले ही बयान जारी कर कहा था कि यूजीसी पे स्केल के बारे में मुख्यमंत्री को शिक्षकों के प्रतिनिधियों से बात करनी चाहिए.

उन्होंने खुद भी इन प्रतिनिधियों से मुलाकात की इच्छा जतायी थी.

इसे भी पढ़ें : #CBSE :  वर्ष 2020 में 22 हजार विद्यार्थी देंगे 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा, रांची में होंगे 16 केंद्र

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like