न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रशासन को किसने चूड़ियां पहनकर बैठने को कहा, साफ है चौकीदार नेः हेमंत सोरेन

1,724

Ranchi:  चुनाव नजदीक है. राजनीतिक बयानबाजी का दौर चालू हो चुका है. इस क्रम में झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष ने गोड्डा में अडाणी पावर प्लांट को लेकर जनता के सवालों को उठाया है. अडाणी थर्मव पावर प्लांट की बिजली बांग्लादेश को बेचे जाने के सवाल पर रघुवर दास से जवाब मांगा है. हेमंत सोरेन ने पूछा है कि गोड्डा पर अबतक चैकीदार चुप क्यों है. कोयला, पानी, जमीन सब झारखंड की, प्रदूषण भी फैलेगा झारखंड में. तो फिर बिजली बांग्लादेश को क्यों.

Trade Friends

हेमंत सोरेन ने एक ट्वीट को रिट्वीट कर पूछा कि क्यों नहीं निरीह जनता के पक्ष में एक सवाल पूछा. जब झारखंड की जनता को उनकी ही जमीन से वंचित करने की धमकी दी गयी, तो क्यों नहीं अडाणी के गुंडों की गिरफ्तारी हुई. उन्होंने लिखा है कि किसने प्रशासन को चूड़ियां पहन कर बैठने को कहा था, साफ है चैकीदार ने.

झारखंडियों के नहीं अडाणी जैसे अरबपतियों के चैकीदार हैं रघुवर दास

हेमंत सोरेन ने कहा कि रघुवर दास झारखंडियों के नहीं अडाणी जैसे अरबपतियों के चैकीदार हैं. इस चैकीदार के सामने कंबल, मोमेंटम हाथी उड़ाओ, टैब, डस्टबीन, हरमू नदी, पोषाहार समेत अनगिनत घोटाले हो गये. साथ ही कहा कि आज जो असली चैकीदार हैं, उन्हें महीनों से पगार नहीं मिला है.

WH MART 1

इसे भी पढ़ेंः पत्थलगड़ी की वास्तविकता को समझने की जरूरत, इसे राजनीतिक रूप नहीं देना चाहिएः अर्जुन मुंडा

अडाणी को लाभ पहुंचाने के लिए इलाके को SEZ घोषित किया गया

गौरतलब है कि झारखंड विकास मोर्चा सुप्रीमो बाबूलाल मारंडी ने गोड्डा में केन्द्र सरकार द्वारा स्पेशल इकोनामिक जोन घोषित करने पर भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था, भाजपा सरकार आम-अवाम की सरकार नहीं है. यह पूरी तरह से कॉरपोरेट घरानों के लिए काम करने वाली सरकार है. झारखंड को नहीं,  गोड्डा को नहीं बल्कि केवल एक कम्पनी को लाभ पहुंचाने के लए एक क्षेत्र को स्पेशल इकोनामिक जोन घोषित कर दिया गया.

और केंद्र सरकार ने इस पर मुहर भी लगा दिया है. गोड्डा में जहां अडाणी कंपनी पावर प्लांट सरकार लगा रही है, शुरू से ही सरकार की मंशा रही है कि कैसे यहां पर अडाणी को अधिक मुनाफा हो. इसके लिए सरकार ने कई नियम-कानून को बदल डाला.

इसे भी पढ़ेंः राजधानी में चोरों का आतंक, ज्यादातर बंद घरों को निशाना बना रहे गिरोह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like